बेटे को टिकट दिलाने के लिए सांसद रीता बहुगुणा जोशी इस्तीफा देने को तैयार

उत्तर प्रदेश चुनाव में अपने बेटे मयंक जोशी को विधानसभा का टिकट दिलाने के लिए रीता बहुगुणा अपनी लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के लिए भी तैयार हैं. उन्होंने अपनी इस मांग को लेकर भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा को एक पत्र भी लिखा है. हालांकि उन्होंने साफ कर दिया है कि फिलहाल वो बीजेपी में ही हैं और वहीं रहेंगी.

रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि यदि पार्टी को लगता है कि मेरे सांसद होने की वजह से मेरे बेटे को टिकट नहीं मिलेगा तो मैं अपनी लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने को तैयार हूं. उन्होंने कहा, “पार्टी को इस उलझन से निकालने के लिए पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को पत्र लिखकर साफ किया है कि मैं अपनी सदस्यता से इस्तीफा देने को तैयार हूं.” इस दौरान उन्होंने साफ किया कि फिलहाल मैं पार्टी में हूं और पार्टी में ही रहूंगी. रीता बहुगुणा जोशी अपने बेटे को लखनऊ कैंट का टिकट देने की मांग कर रही हैं. बता दें कि लखनऊ कैंट सीट को लेकर बीजेपी में कई दावेदार हो गए हैं.

प्रयागराज से लोकसभा सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने मंगलवार को कहा, “मैंने ये प्रपोज़ल बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को भेजा है और मैं हमेशा बीजेपी के लिए काम करती रहूंगी. पार्टी मेरा प्रपोज़ल स्वीकार कर सकती है या चाहे तो नहीं भी कर सकती है. मैंने कई साल पहले ये एलान कर दिया है कि मैं चुनाव नहीं लड़ूंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.