Uttarakhand Election2022: उत्तराखंड में भाजपा का दृष्टि पत्र’ जारी, हर जिले में मेडिकल कॉलेज, सालभर में तीन सिलेंडर समेत चुनावी वादों की बरसात

आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने उत्तराखंड के लिए बुधवार को दृष्टि पत्र के नाम से अपना घोषणा पत्र जारी किया है। केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने उत्तराखंड भाजपा के ‘दृष्टि पत्र’ का विमोचन किया। भाजपा के घोषणा पत्र में उत्तराखंड के हर जिल में एक मेडिकल कॉलेज स्थापित किये जाने का वादा किया है। इस घोषणा पत्र में मनरेगा श्रमिकों के वेतन में चरणबद्ध तरीके से वृद्धि की बात कही गई है। उत्तराखंड के हर गांव में मजबूत वेस्ट मैनेजमेंट प्रणाली स्थापित की जाएगी। वहीं पीएम- वाणी योजना के जरिए हर गांव में वाई-फाई हॉट स्पॉट का वादा किया गया।
घोषणापत्र समिति के संयोजक पूर्व केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि घोषणा पत्र को बनाने में 13 जिलों में जाकर अलग-अलग लोगों से सुझाव मांगे गए हैं। जिनमें सैनिक, किसान, महिलाएं युवा शामिल हैं। रमेश पोखरियाल ने कहा कि हम उत्तराखंड को 2025 तक देश का श्रेष्ठतम राज्य बनाना चाहते हैं। सुरक्षित देवभूमि चाहते हैं, भूमि पर अवैध कब्जे के कारण जनसांख्यिकी परिवर्तन हो रहा है, हम इसके लिए कानून लाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि 6 हज़ार केंद्र और 6 हज़ार राज्य सरकार देगी. यानी किसानों के खाते में 12 हज़ार जाएगा।
भाजपा के ‘दृष्टि पत्र’ के वादे
• उत्तराखंड में सशक्त भू कानून कानून बनाया जाएगा
• हिम प्रहरी योजना को शुरू किया जाएगा
• सीमांत क्षेत्र में बसने वाले लोगों को प्रोत्साहन राशि मिलेगी
• भाजपा की सरकार आने पर किसान सम्मान निधि के तहत 6 हजार रूपए दिए जाएंगे
• प्रदेश की महिलाओं को साल भर में 3 सिलेंडर निःशुल्क दिए जाएंगे
• बीपीएल परिवार की महिलाओं को हर महिने 2 हजार रूपए दिए जाएंगे
• 108 योजना को और सश्कत किया जाएगा
• सचल चिकित्सा में बेहतर काम किया जाएगा
• प्रदेश के मंदिरों के जीर्णोद्धार का काम किया जाएगा
• 45 नए पर्यटकों स्थलों को विकसित किया जाएगा
• साहसिक और इको टूरिज्म बोर्ड का गठन किया जाएगा
• श्रमिकों के लिए 5 लाख तक का बीमा कवर की योजना शुरू की जाएगी
• हर ग्राम पंचायत में सुसज्जित सामुदायिक और मनोरंजन केंद्र स्थापित किए जाएंगे
• 2025 तक हर गांव में कम से कम एक एटीएम लगाया जाएगा
• स्मार्ट विलेज कार्यक्रम के तहत सभी गांवों को विकसित करने का मिशन
• 2038 में औली में शीतकालीन ओलंपिक का आयोजन किया जाएगा
• हर ब्लॉक में प्रतिभा चिन्हीकरण और प्रशिक्षण अकादमी की स्थापना की जाएगी
• देवभूमि को खेलभूमि बनाने का वादा

Leave a Reply

Your email address will not be published.