Congress Manifesto For UP Election: कांग्रेस का ‘उन्नरति विधान जनघोषणा पत्र’ जारी, हर वर्ग के लिए खास घोषणा

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण में 10 फरवरी को मतदान होना है। ऐसे में आखरी समय पर राजनीतिक दलों ने अपना पूरा जोर लगा दिया है। इसी बीच बुधवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कांग्रेस का तीसरा घोषणा पत्र ‘उन्‍नति विधान जनघोषणा पत्र-2022’ के नाम जारी कर दिया है। इस मौके पर प्रियंका गांधी ने कहा कि कांग्रेस ने 1 लाख लोगों से बातचीत के बाद घोषणापत्र तैयार किया है। इसमें आमलोग, मजदूर किसान, विशेषज्ञ समेत हर वर्ग के लोग शामिल हैं। उन्‍होंने कहा, ‘हमने जितने भी घोषणापत्र जारी किए हैं, उसमें दर्ज बातें आम जनता के सुझाव हैं। अपने घोषणा पत्र को जनघोषणा पत्र बताते हुए प्रियंका ने कहा कि इसके जरिये वह बताना चाहती हैं कि जनता की आकांक्षाएं क्‍या हैं और कांग्रेस जनता क लिए क्‍या करेगी।

गौरतलब हो कि इससे पहले कांग्रेस ने 21 जनवरी को भर्ती विधान और उससे पहले 8 दिसंबर को शक्ति विधान जारी किया गया था। 8 दिसंबर को जारी शक्ति विधान में महिलाओं के लिए घोषनाएं की गई थीं, जबकि 21 जनवरी को युवाओं के लिए जारी भर्ती विधान में 20 लाख नौकरी का वादा किया गया था।

‘उन्नति विधान’ में कांग्रेस के वादे

  • किसानों का पूरा कर्ज माफ होगा, सरकार बनने पर 10 दिनों के अंदर ऐसा होगा। 
  • जिन परिवारों को कोरोना की मार सबसे ज्यादा पड़ी उन्हें 25 हजार की मदद करेंगे।
  • 20 लाख नौकरियां देंगे। 12 लाख खाली पदों को भरा जाएगा। इसके साथ 8 लाख नए रोजगार के मौके उपलब्ध कराएंगे। 
  • बीमार होने पर लोगों को 10 लाख तक का इलाज मुफ्त होगा। 
  • आवारा पशुओं का नुकसान झेलने वालों को तीन हजार की मदद दी जाएगी। गोधन न्याय योजना शुरू की जाएगी। इसमें 2 रुपए किलो में गोबर खरीदा जाएगा। 
  • सफाई कर्मियों को नियमित किया जाएगा। आउटसोर्सिंग बंद करेंगे। 
  • झुग्गी वाली जमीन आपके नाम की जाएगी।
  • महिला पुलिसकर्मियों को उनके गृह जनपद में पोस्टिंग होगी। 
  • पूर्व सैनियों के लिए एक विधानपरिषद की सीट
  • पत्रकारों के खिलाफ दायर मुकदमों को खत्म करेंगे।
  • ग्राम प्रधान का वेतन छह  हजार महीना और चौकीदारों का वेतन पांच हजार तक बढ़ाया जाएगा। 
  • शिक्षकों के खाली दो लाख पदों को भरा जाएगा, एडहॉक शिक्षकों और शिक्षामित्रों का नियमितिकरण किया जाएगा। 
  • संस्कृत और ऊर्दू शिक्षकों के खाली पद भरे जाएंगे। 
  • अनुसूचित जाति और जनजाति के छात्रों को केजी से पीजी तक मुफ्त शिक्षा मिलेगी।

कोरोना के दौरान जान गंवाने वाले कोरोना योद्धाओं के परिजनों को 50 लाख रुपये मुआवजा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.