साइबर ठगों का नया तरीका, बेहद शातिराना तरीके से उड़ा रहे हैं लाखों रुपए

देहरादून। उत्तराखंड में लगातार साइबरों ठगों का मकड़ जाल फैलता जा रहा है। आए दिन साइबर ठगी की कई घटना सामने आती हैं। कभी OTP के जरीए तो कभी अश्लील वीडियो कॉल कर साइबर ठग कई लोगों को ठग चुके हैं। अब साइबर अपराधियों ने लोगों को ठगने का एक और नया तरीका निकाला है। जिससे जानने के बाद यकीनन आपको होश उड़ जाएंगे।

दरअसल, पुरानी वाशिंग मशीन को ऑनलाइन बेचने के चक्कर में साइबर ठगों ने एक व्यक्ति के खाते से 99 हजार रुपये उड़ा लिए। वहीं दूसरी ओर एक युवती को गूगल से एसबीआइ कस्टमर केयर का नंबर लेना महंगा पड़ा। वह 49 हजार रुपये की साइबर ठगी का शिकार हो गई।

ओएलएक्स के जरिए की ठगी

अक्षत कपूर निवासी सुभाषनगर ने क्लेमेनटाउन थाने में दी गई तहरीर में बताया कि उन्होंने ऑनलाइन पोर्टल ओएलएक्स पर वाशिंग मशीन बिक्री के लिए पोस्ट डाली थी। उनके फोन पर बीते 18 जनवरी को एक काल आई, काल करने वाले ने फोन पर मशीन खरीदने की डील की। उसने ऑनलाइन पेमेंट के लिए उनके मोबाइल पर एक बार कोड भेजा। जब उन्होंने इस कोड को स्कैन किया तो उनके खाते से अलग-अलग टांजेक्शन से 99 हजार रुपये कट गए। थानाध्यक्ष कुलवंत सिंह ने बताया कि पीड़ित की तहरीर पर अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

एसबीआइ कस्टमर केयर बनकर ठगा

दूसरी ओर दिव्या चौहान निवासी भागीरथीपुरम, बंजारावाला ने बताया कि उन्होंने ई कामर्स साइट अमेजन से कपड़े सुखाने का स्टैंड ऑनलाइन खरीदा। स्टेंड खराब था उन्होंने वापस कर दिया। इसका रिफंड उनके खाते में वापस नहीं आया। उन्होंने अमेजन कंपनी में संपर्क किया तो रिफंड के लिए बैंक में संपर्क करने को कहा गया। पीड़ित ने नेट पर एसबीआइ कस्टमर केयर का नंबर सर्च किया। इस दौरान एक व्यक्ति से बात हुई। समस्या बताई तो उसने खाते में रिफंड भेजने का भरोसा दिलाया। इसके लिए उसने पीड़िता से उनके व उनकी सास के बैंक खाते की डिटेल ले ली।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.