सुर्खियों में बिहार का ये शुगर फ्री आम, पकने तक 16 बार बदलता है अपना रंग

जब आम की बात हो और मुंह में पानी न आए ऐसा हो नहीं सकता है। अब वो चाहे कच्चे हों या पके सभी को पसंद होता है। आम जितना स्वादिष्ट होता है, उतना ही सेहत के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए इसे फलों का राजा कहते हैं। दरअसल आम का सीजन शुरू हो गया है। इन दिनों मंडी में एक से बढ़कर एक किस्म के आम देखने को मिल रहे है। इसी बीच बिहार के मुजफ्फरपुर में किसान भूषण सिंह के बाग का आम चर्चा का विषय बना हुआ है। इस आम का आकार और रंग इतना अलग है कि आने जाने वाले इसे एक बाद रुक कर देखते हैं। जी हां, इस आम का नाम अमेरिकन ब्यूटी है जो शूगरफ्री है। इसकी खासियत यह है कि शुरू से लेकर पकने तक यह आम 16 बार अपना रंग बदलता है। इतना ही नहीं पकने के समय इसका वजन आधा किलो से ज्यादा हो जाता है। जबकि इसका सामान्य वजन चार सौ ग्राम होता है।
जिला मुख्यालय से करीब 6 किलोमीटर पूरब की ओर स्थित मुशहरी गांव के रहने वाले किसान भूषण सिंह ने पश्चिम बंगाल से लाकर यह किस्म अपने बगीचे में लगाया है। इसमें दो सालों से फल लग रहे हैं। दरअसल, इसका आकार और रंग साधारण आम से अलग है। किसान भूषण सिंह ने बताया कि यह आम पांच माह में तैयार होता है। अगले माह यानि जुलाई में यह पक कर तैयार हो जाएगा। हालांकि पिछले साल कम फल आया था तो चर्चा नहीं हुई थी। लेकिन इस साल रास्ते से गुजरने वालों ने आम को सुर्खियों में ला दिया।
वहीं किसान भूषण सिंह का कहना है कि इसमें मिठास कम है क्योंकि यह शुगर फ्री वेरायटी है। हालांकि इसका स्वाद बहुत अच्छा है। उन्होंने बताया कि कृषि विश्वविद्यालय समस्तीपुर और राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केन्द्र मुजफ्फरपुर के वैज्ञानिकों ने भी इस आम का स्वाद चखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.