घर पहुंचा शहीद सूबेदार मेजर नंदन सिंह का पार्थिव शरीर, बिलख पड़ा परिवार

जम्मू के पहलगाम में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की बस दुर्घटना में घायल हुए चंपावत के सूबेदार मेजर नंदन सिंह ने बीते रोज दिल्ली के अस्पताल में उपचार के दौरान अंतिम सांस ली। उनके शहीद होने की खबर से उनके घर में कोहराम मच गया। वहीं जब आज बुधवार को उनका पार्थिव शरीर घर पहुंचा तो परिजन ताबूत से लिपटकर ही रोने लगे। शहीद की अंतिम विदाई के दौरान पूरे क्षेत्र में मातम पसर गया।

बता दें कि उत्तराखंड के चम्पावत स्थित देवीधुरा के पखोटी गांव के निवासी सूबेदार मेजर नंदन सिंह चम्याल (50) आईटीबीपी की चौथी बटालियन में अरुणाचल प्रदेश में तैनात थे। डेढ़ महीने से उनकी ड्यूटी अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में थी। अमरनाथ यात्रा की ड्यूटी के बाद चंदनवाड़ी से पहलगाम जाते समय बस खाई में गिरने से सूबेदार मेजर नंदन सिंह गंभीर घायल हो गए थे। सोमवार को उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ा। सूबेदार मेजर के शव को उनके घर देवीधुरा भेजने से पहले श्रीनगर में आईटीबीपी अधिकारियों ने सलामी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.