केदारनाथ धाम को प्लास्टिक मुक्त बनाने की पहल, खाली प्लास्टिक बोतल पर मिलेंगे दस रुपये

लक्ष्मण सिंह नेगी

ऊखीमठ। केदारनाथ यात्रा को गुप्तकाशी से केदारनाथ धाम तक प्लास्टिक उन्मूलन क्षेत्र घोषित करने के लिए जिला व तहसील प्रशासन आगामी 15 अगस्त को आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर एक अनूठी पहल शुरू करने जा रहा है। यदि भविष्य में यह प्रयास सफल रहा तो गुप्तकाशी से केदारनाथ धाम का सम्पूर्ण भूभाग प्लास्टिक मुक्त हो जायेगा, जिससे पर्यावरण का संतुलन बना रहेगा और यात्रा व्यवस्थाओं में लगे मजदूरों की अतिरिक्त आय भी अर्जित होगी।

दरअसल, जिला, तहसील प्रशासन व हैदराबाद की एक संस्था द्वारा प्लास्टिक में मिलने वाले  पेय पदार्थों की बिक्री पर क्यू आर कोड लागू करने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही प्लास्टिक की खाली बोतल वापस देने पर दस रूपये वापस देने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए संस्था की ओर से गुप्तकाशी से केदारनाथ तक 265 व्यापारियों को क्यू आर कोड आवंटित किये गये हैं। वहीं प्लास्टिक की खाली बोतलें वापस करने के लिए गुप्तकाशी से केदारनाथ तक 14 सेन्टर बनाये गये हैं, जिनमें तीर्थ यात्री, सैलानी, मजदूर प्लास्टिक की खाली बोतलें जमा कर प्रति बोतल दस रूपये वापस ले सकता है। इसके लिए प्रशासन व संस्था द्वारा विभिन्न स्थानों पर स्लोगन लिखकर तीर्थ यात्रियों व आमजनता को जागरूक भी किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.