Yudh Abhyas 2022: भारत और अमेरिकी सेना का युद्धाभ्यास जारी, चीन की बढ़ी चिंता

उत्तराखंड के औली में भारत और अमेरिका की सेनाओं के बीच होने वाली सालाना मिलिट्री एक्सरसाइजयुद्धाभ्यास-2022 जारी है। उत्तराखंड का औली में दोनों देशों के बीच युद्धाभ्यास किया जा रहा है। उत्तराखंड का औली करीब 10 हजार फीट की उंचाई पर है। ऐसे में इतने उंचे पहाड़ी इलाके में भारतीय सेना पहली बार किसी मित्र देश की सेना के साथ मिलिट्री एक्सरसाइज कर रही है। इस युद्धाभ्यास में फील्ड ट्रेनिंग एक्सरसाइजइंटीग्रेटेड बैटल ग्रुपफोर्स मल्टीप्लायर्सनिगरानी ग्रिड की स्थापना और संचालनऑपरेशनल लॉजिस्टिक और पर्वतीय युद्ध कौशल शामिल हैं।

युद्धाभ्यास ने बढ़ाई चीन की चिंता

बता दें कि यह युद्धाभ्यारस हर साल होता है। इस क्रम में औली में रूसी मूल के एमआइ-17वी5 हेलीकॉप्टर में सवार होकर दोनों देशों की सेनाओं के जवान उतरे। सबसे खास बात यह है कि इस युद्धाभ्यास ने चीन की चिंता बढ़ा दी है क्योंकि औली चीन की सीमा से मात्र 100 किलोमीटर दूर है।

दोनों देख कर रहे मिलिट्री वॉरफेयर की रणनीति साझा

यह युद्धाभ्यास दोनों देशों की सेनाओं को अपने व्यापक अनुभवोंकौशलों को साझा करने और सूचना के आदान-प्रदान से अपनी तकनीकों के विस्तार का अवसर प्रदान कर रहा है। इस यु्द्धाभ्यास में दोनों देशों की सेना एक दूसरे से हाई एल्टीट्यूड मिलिट्री वॉरफेयर की रणनीति साझा करेगी। बता दें कि अमेरिकी सेना भी अलास्का जैसे बेहद ही सर्द इलाकों में तैनात रहती हैंजहां 12 महीने बर्फ रहती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.