किरगिस्तान में देवभूमि के बेटे आर्यन का दमदार प्रदर्शन, दो गोल्ड जीते

कुलदीप राणा आजाद

रूद्रप्रयाग। उत्तराखंड में खेल प्रतिभाओं की कमी नहीं है। खिलाड़ी श्रेष्ठ प्रदर्शन कर अपनी काबिलियत का लोहा देश-विदेश में मनवा रहे हैं और प्रदेश के साथ-साथ देश का नाम भी रोशन कर रहे हैं। इन्हीं दमदार खिलाड़ियों में एक हैं उत्तराखंड के लाल आर्यन कंडारीजिन्होंने किरगिस्तान में आयोजित एशियन पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में गोल्ड जीतकर सूबे के साथ-साथ भारत का मान बढ़ाया है। आर्यन कंडारी की इस उपलब्धि से जनपद में खुशी का माहौल है।

आर्यन कंडारी ने एशियन चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए डेड लिफ्ट में एक गोल्ड और पावर लिफ्टिंग में ओवरऑल एक गोल्ड और बेस्ट लिफ्टर का खिताब भी अपने नाम किया है। आर्यन कंडारी इससे पहले भी उत्तराखंड पावर लिफ्टिंग में दो गोल्ड मेडल जीत चुके हैं।

आर्यन कंडारी मूल रूप से जनपद रुद्रप्रयाग के बचणस्यू पट्टी के बामसू गांव के रहने वाले हैं। आर्यन कंडारी के पिता ने कहा आर्यन को बचपन से ही पावरलिफ्टिंग का शौक था। पिछले चार-पांच वर्षों से वह इस क्षेत्र में कड़ी मेहनत कर रहा हैजिसका नतीजा आज सबके  सामने है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.