हल्द्वानी में देश का पहला ‘जुरासिक पार्क’ तैयार, यहां बसा है डायनासोर का संसार, देखे वीडियो

रिपोर्ट- मुकेश सक्सेना

देश का पहला जुरासिक पार्क वन अनुसंधान केंद्र हल्द्वानी में बन कर तैयार हो गया है. बॉटनी वैज्ञानिकों की मदद से इस जुरासिक पार्क की स्थापना की गई है, जिसमें डायनासोर की प्रजातियों और उनके खानपान के जानकारी दी जाएगी. डायनासोर काल की वनस्पतियां अब वन अनुसंधान केंद्र हल्द्वानी द्वारा बनाए गए जुरासिक पार्क में खिलखिला रही हैं. वहीं, इस वजह से बड़ी संख्या में यहां छात्र भी पहुंच रहे हैं और उनको यहां लगे बोर्ड के जरिये इनके बारे में पूरी जानकारी भी मिल रही है. असल में तो डायनासोर को इंसानों ने नहीं देखा लेकिन इस पार्क के जरिए लोगों को पता चल सकेगा कि आखिर डायनासोर क्या खाते थे? करीब 24 करोड़ 80 लाख साल पहले डायनासोर की उत्पत्ति हुई और 6.50 करोड़ साल पहले डायनासोर का पृथ्वी से खात्मा हो गया. डायनासोर का खात्मा कैसे हुआ, इसको लेकर दुनिया के अलग-अलग हिस्सों से डायनासोर के कई कंकाल मिले, जिनसे वैज्ञानिकों उनकी मौजूदगी का पता चला. जुरासिक काल में वनों के अंदर किस तरह के वनस्पति होते थे और डायनासोर कौन सी वनस्पति खाते थे ? उसको लेकर हल्द्वानी वन अनुसंधान केंद्र ने रिसर्च करते हुए भारत के पहले जुरासिक पार्क की स्थापना की है….. देखे वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published.