विरोधियों की नींद उड़ा देगा, योगी सरकार का रिपोर्ट कार्ड

अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण।

वैदिक नगरी के रूप में अयोध्या का भव्य विकास।

प्रयागराज में दिव्य और भव्य कुंभ का सफल आयोजन

प्रतिवर्ष अयोध्या में दिव्य दीपोत्सव का आयोजन।

प्रतिवर्ष दीपोत्सव का नया विश्व कीर्तिमान।

अयोध्या में राम लीला का भव्य आयोजन।

कांवड़ियों पर हेलीकॉप्टर से पुष्प वर्षा।

यूपी के सभी थानों में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी मानने का आदेश।

सदियों से बंद पड़े अक्षय वट और सरस्वती कूप को श्रद्धालुओं के लिए खोला।

काशी विश्वनाथ धाम का भव्य विकास।

मथुरा में भव्य कृष्ण जन्मोत्सव और बरसाना में भव्य रंगोत्सव का आयोजन।

रामायण सर्किट के तहत चित्रकूट और श्रंगवेरपुर का विकास।

कैलाश मानसरोवर भवन का निर्माण।

कैलाश मानसरोवर जाने वाले यात्रियों की अनुदान राशि 50 हजार से बढ़ाकर 1 लाख कर दी गयी।

इलाहाबाद और फैजाबाद का नाम बदलकर पुनः उसका पौराणिक नाम प्रयागराज और अयोध्याजी किया।

गौहत्या पर पूर्ण प्रतिबंध।

धार्मिक स्थलों के आस पास मांस मदिरा की बिक्री पर प्रतिबंध।

विश्वविख्यात प्रयागराज-2019 कुंभ की यूनेस्कों के साथ ही दुनिया ने सराहना की।

ग्लोबल इन्साइक्लोपीडिया आफ रामायण पर आधारित राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्र्रीय स्तर के सेमिनार आयोजित किये गये।

महाभारत सर्किट के अंतर्गत महाभारत से जुड़े स्थलों का विकास। 

प्रदेश के सभी जनपदों में दो-दो गोवंश संरक्षण केंद्रों की स्थापना की गयी।

बेसहारा गोवंशों के लिए कार्पस फंड की व्यवस्था की गयी।

किसान:

86 लाख किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफ किया।

सरकार द्वारा 435 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्न की खरीद की गई और किसानों को 79,000 करोड़ रुपए का भुगतान किया।

45.5 लाख से अधिक गन्ना किसानों को 1.35 लाख करोड़ से अधिक का भुगतान।

3.5 लाख करोड़ से अधिक का फसल ऋण वितरण।

3.77 लाख हेक्टेयर से अधिक अतिरिक्त सिंचाई क्षमता में वृद्धि।

निराश्रित गोवंशों के लिए आश्रय स्थल।

गौवंशो के पलकों को प्रति गौवंश प्रति माह 900₹ की सहायता।

एमएसपी पर रिकॉर्ड खरीद करने वाला प्रदेश।

कोरोना कालखंड में 378 लाख मीट्रिक टन खाद्यान की खरीद की गयी।

उत्तर प्रदेश किसान समृद्ध आयोग का गठन करके 1.80 करोड़ से अधिक किसानों में क्रडिट कार्ड बांटे गए।

20 नये कृषि विज्ञान केंद्रों की स्थापना की गयी

45 कृषि उत्पाद मंडी शुल्क से मुक्त की गई।

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के तहत 500 करोड़ का बजट बनाया गया।

मंडी शुल्क में 1 प्रतिशत की कमी की गयी।

भारत सरकार ने योगी सरकार को 2 करोड़ रूपये के कृषि कर्मण पुरस्कार से पुरस्कृत किया।

मछली पालन के लिए ठेका की अवधि तीन वर्ष से बढ़ाकर 10 वर्ष कर दी गयी।

सबका साथ सबका विकास:

हर घर नल से जल योजना के तहत 30 हजार ग्राम पंचायतों में शुद्ध पेयजल की योजना लागू की गई है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 42 लाख से अधिक घरों का निर्माण।

मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत 1,08,495 आवासों का निर्माण।

बिजली की हर गांव, हर घर में पहुँच।

1.21 लाख से अधिक गांवों को निर्बाध बिजली आपूर्ति।

कोरोना प्रबंधन:

निःशुल्क कोविड जांच, निःशुल्क टीकाकरण और निःशुल्क उपचार।

9 करोड़ से ज्यादा लोगों को टीका लगाने वाला देश का पहला राज्य।

2.75 लाख COVID परीक्षण प्रतिदिन करने वाला पहला राज्य।

COVID जाँच के लिए 234 प्रयोगशालाएं।

1.8 लाख कोविड बेड्स की उपलब्धता।

555 ऑक्सीजन संयंत्र स्वीकृत, 392 कार्यशील।

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने यूपी सरकार के प्रयासों की प्रशंसा की।

स्वास्थ्य:

59 जिलों में से प्रत्येक में कम से कम 1 क्रियाशील मेडिकल कॉलेज।

35 नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण।

पीपीपी मॉडल पर 16 जिलों में शुरू हुआ मेडिकल कॉलेज।

गोरखपुर व रायबरेली में एम्स का संचालन।

पूर्वांचल में इंसेफेलाइटिस की गंभीर बीमारी में 95% कमी।

इंसेफेलाइटिस से मुकाबला करने के लिए 38 से अधिक अस्पतालों में अलग वार्ड बनाए।

6 नए सुपर स्पेशियलिटी मेडिकल ब्लॉक की स्थापना।

अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय का निर्माण।

गोरखपुर में गुरू गोरक्षनाथ आयुष चिकित्सा विश्वविद्यालय का निर्माण।

इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट:

दिल्ली से वाराणसी वाया अयोध्या बुलेट ट्रेन प्रस्तावित

लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, आगरा, सहारनपुर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.