हरियाणा: खेल स्टेडियम की राशि मंजूर होने के बाद निर्माण करना भूला विभाग

[ad_1]

चरखी दादरी. खेल स्टेडियम की सरकार द्वारा राशि मंजूर होने के सात साल भी संबंधित विभाग स्टेडियम का निर्माण कार्य करना भूल गया. पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान (सतपाल सांगवान) ने गांव रावलधी के खेल स्टेडियम का निरीक्षण किया तो तत्कालीन सरपंच व ग्रामीणों ने उनके समक्ष अधूरा खेल स्टेडियम (खेल स्टेडियम) का निर्माण करने की मांग रखी. सांगवान ने संबंधित विभाग व प्रशासनिक अधिकारियों से जानकारी ली तो पूरा मामला सामने आया. जिसके बाद पूर्व मंत्री ने उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला को पत्र लिखकर खेल स्टेडियम की बकाया राशि की मंजूरी सहित पूरा निर्माण करवाने की मांग की है.

बता दें कि जिले के गांव रावलधी में करीब सात साल पहले तत्कालीन सहकारिता मंत्री सतपाल सांगवान द्वारा 10 एकड़ में खेल स्टेडियम का निर्माण करवाने के लिए 80 लाख रुपए की ग्रांट जारी की गई थी. इसी दौरान भाजपा की सरकार आने पर खेल स्टेडियम की चार दिवारी का ही निर्माण हो पाया और स्टेडियम में अन्य सुविधाओं पर कोई खर्च नहीं हुआ. जिसके चलते स्टेडियम निर्माण का कार्य अधूरा पड़ा हुआ है.

पूर्व मंत्री सतपाल सांगवान ने रावलधी के खेल स्टेडियम का निरीक्षण कर ग्रामीणों से बात की. पूर्व सरंपच अशोक कुमार, पूर्व पंच धर्मबीर सिंह, भीम भारद्वाज, दिनेश फौगाट, प्रीतम बाक्सर, धर्मबीर बोरी, जयंत वशिष्ठ, मोहित शर्मा, मंजीत चिंकी, बिट्टू जांगड़ा, बंशी मास्टर, डैनी पहलवान, कर्मबीर शर्मा इत्यादि ने पूर्व मंत्री के समक्ष बताया कि सात साल से गांव का खेल स्टेडियम का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है. संबंधित विभाग को सरकार से मंजूर राशि मिलने के बाद भी निर्माण कार्य पूरा नहीं हुआ.

सतपाल सांगवान ने प्रशासनिक अधिकारियों से बात की तो जानकारी मिली कि करीब 63 लाख रुपए की राशि संबंधित विभाग के खाते में राशि जमा है, लेकिन निर्माण पूरा नहीं हुआ. ऐसे में सांगवान ने डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला को पत्र लिखकर पूरे मामले से अवगत करवाया. साथ ही उन्होंने अधूरा खेल स्टेडियम का निर्माण पूरा करवाने की मांग की.

आपके शहर से (चरखी दादरी)

चरखी दादरी

चरखी दादरी

टैग: हरियाणा सरकार, हिमाचल समाचार

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.