Chhapra News: बकरी चुराने के लिए बने फर्जी दारोगा, अब असली पुलिस पड़ी पीछे

[ad_1]

छपरा (सारण). बिहार में पुलिस आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए लगातार प्रयासरत है. इसके बावजूद अपराध थम नहीं रहा है. हालत यह है कि अब चोर-उचक्‍के फर्जी दारोगा बनकर चोरी और अपराध की अन्‍य घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. ऐसी ही एक घटना छपरा के एकमा में सामने आई है. चार शख्‍स कार से आए और खुद को दारोगा बताकर दरवाजा खुलवाया. इसके बाद पुलिसिया रौब झाड़ते हुए बकरी उठाई और चलते बने. लोगों को बाद में इसका एहसास हुआ. अब फर्जी पुलिसवालों से परेशान लोग असली पुलिसवाले यानी की थाने जाकर इसकी शिकायत दर्ज कराई है. अब पुलिस इनकी तलाश में जुटी है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, फर्जी पुलिस बन बकरी उठाने की यह घटना एकमा परसागढ़ रोड पर स्थित एकमा अजा बस्‍ती की है. पीड़ित ने बताया कि रात को तकरीबन डेढ़ बजे सूमा से चार शख्‍स खुद को दारोगा बताते हुए एक ग्रामीण से दरवाजा खुलवा लिया. इसके बाद सभी बदमाश उनके घर में घुस गए और रस्‍सी से बंधी बकरी और उनके बच्‍चों को गाड़ी में लाद लिया. बदमाशों ने पड़ोस में स्थिति एक घ्‍र का दरवाजा तोड़ कर वहां भी बकरी की तलाश की थी. बकरी न मिलने पर गाली-गलौज करते हुए सभी भाग निकले.

Bihar News: कहर बनकर टूटी बारिश, ओले और ठंड की चपेट में आने से 100 की मौत, सरकार से मुआवजे की मांग

थाने पहुंचे पीड़ित ने पुलिस को बताया कि खुद को पुलिस बताने के बाद ही उन्‍होंने दरवाजा खोला था. गेट खोलते ही वे लोग घर में घुस गए और बकरी और उनके बच्‍चों को लेकर चलते बने. इससे पहले बदमाशों ने घर की तलाशी भी ली थी. ग्रामीण का कहना है कि आजकल पुलिस शराब के संदेह में रात में भी छापेमारी कर रही है. ऐसे में उचक्‍कों ने जब खुद को पुलिस बताया तो उन्‍होंने दरवाजा खोल दिया. मामले पर संज्ञान लेते हुए स्‍थानीय पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है. जल्‍द ही ऐसे बदमाशों को पकड़ने की बात कही जा रही है.

आपके शहर से (पटना)

टैग: बिहार पुलिस, सारण समाचार

.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.