पटना में डीजल मिनी बसों की जगह चलेंगी CNG बसें, बस बदलने पर सरकार देगी लाखों अनुदान

[ad_1]

पटना. लगातार बढ़ते प्रदूषण (Pollution) को देखते हुए परिवहन विभाग (Transport Department) ने स्मार्ट सिटी पटना (Smart City Patna) में डीजल से चलने वाली मिनी बसों को हटाने का फैसला लिया है. पटना नगर निगम क्षेत्र में डीजल मिनी बसों (Diesel Mini Bus) की जगह 50 नई सीएनजी बसों (CNG Bus) के परिचालन का फैसला लिया गया है. चौबीस सीटों वाले सीएनजी बसों की खरीद के लिए लोगों को साढ़े सात लाख रुपए अनुदान देने का निर्णय लिया गया है. पहले चरण में पटना नगर निगम (Patna Municipal Corporation) में 50 बसों के लिए निकाले गए विज्ञप्ति में 43 बसों की मंजूरी मिली है. बाकी के सात बसों के लिए एक बार फिर आवेदन निकाला गया है. लोगों से इस संबंध में आवेदन लेन के लिए 10 जनवरी अंतिम तारीख रखी गई है.

परिवहन विभाग के सचिव संजय अग्रवाल ने बताया कि सभी सीएनजी बसें एक रंग और डिजाइन की होंगी. यह सभी सीएनजी बसें 24 सीटर हैं. निजी डीजल मिनी बसों को नए सीएनजी मिनी बसों का स्वीकृति पत्र का वितरण जिला स्तर पर किया जाएगा. इसके लिए जिला परिवहन पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है.

जाने आवेदन के लिए क्या है जरूरी कागजात

सीएनजी बसों की खरीद पर दिए जाने वाले अनुदान के लिए परिवहन विभाग तारीखों के एलान के साथ कई दस्तावेज जमा करना होगा. सभी आवेदन DTO ऑफिस में जमा कराने होंगे. आवेदन के साथ पुरानी बस का निबंधन प्रमाण पत्र जमा करना जरूरी है. इसके साथ ही नए सीएनजी वाहन का कोटेशन, पुराने बस का फिटनेस, वैध प्रमाण पत्र, PUC प्रमाण पत्र, आधार प्रमाण पत्र और बैंक अकाउंट का डीटेल देना होगा.

डीजल बस चलाने पर लगेगा जुर्माना

पटना नगर निगम से सभी डीजल बसों को हटा कर सीएनजी बसों का परिचालन जल्द शुरू हो जाएगा. सीएनजी बसों की खरीद के बाद डीजल बसों को किसी हाल में पटना नगर निगम में चलने नहीं दिया जाएगा. और यदि कोई डीजल मिनी बस पटना नगर निगम में चलाते हुए या परिचालन करते पकड़ा जाएगा तो उस पर भारी जुर्माना लगाया जाएगा. इसके लिए लगातार जांच अभियान चलाया जाएगा.

आपके शहर से (पटना)

टैग: बिहार के समाचार हिंदी में, बस सेवाएं, सीएनजी, पटना नगर निगम, स्मार्ट सिटी परियोजना

.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.