चारधाम में अब तक 91 श्रद्धालुओं की मौत

उत्तरकाशी: उत्तराखंड चारधाम में तीर्थयात्रियों की मौत का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. गुरुवार 26 मई को एक दिन में ही 16 यात्रियों की जान चली गई. भी केदारनाथ धाम में चार श्रद्धालुओं की मौत हो गई. वहीं, यमुनोत्री धाम में भी तीन तीर्थयात्रियों ने दम तोड़ दिया. केदारनाथ और यमुनोत्री धाम में गुरुवार को हुई सभी आठ मौतें बीमारी के कारण ही हुई हैं. चारधाम में अभीतक 91 श्रद्धालुओं की मौत हो चुका है. एक दिन में 16 तीर्थयात्रियों की मौत: उत्तराखंड की डायरेक्टर हेल्थ डॉक्टर शैलजा ने बताया कि उत्तराखंड चारधाम यात्रा शुरू होने से गुरुवार 26 मई तक 91 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है. डॉक्टर शैलजा के अनुसार 16 तीर्थ यात्रियों की मौत अकेले 26 मई को हुई है. आपको बता दें कि उत्तराखंड की चारधाम यात्रा 3 मई से शुरू हुई थी. 3 मई को गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुले थे. 6 मई को केदारनाथ धाम के कपाट खुले थे. 8 मई को बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने के साथ ही चारधाम यात्री पूरी तरह शुरू हो गई थी.यमुनोत्री धाम में मौत का आंकड़ा: उत्तराखंड चारधाम यात्रा में बदलता मौसम श्रद्धालुओं की जान पर भारी पड़ रहा है. गुरुवार 26 मई को यमुनोत्री धाम में तीन तीर्थयात्रियों की मौत हुई है. इसी के साथ यमुनोत्री धाम में श्रद्धालुओं की मौत का आंकड़ा 23 तक पहुंच गया है. जिनमें से तीन यात्रियों की गिरने और चोट लगने से मौत हुई, बाकी की सभी 21 श्रद्धालुओं की मौत हार्ट अटैक के कारण हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.