Politics of Uttarakhand: कौन बना BJP का संकटमोचक? हरक सिंह को मनाने में किसका क्या रोल रहा?

[ad_1]

देहरादून. उत्तराखंड में चुनावी सरगर्मियों के बीच राजनीतिक पार्टियों में प्रेशर पॉलिटिक्स और डैमैज कंट्रोल की स्थितियां देखी जा रही हैं. एक तरफ, कांग्रेस में हरीश रावत का मामला शुक्रवार को किसी तरह शांत हुआ, तो भाजपा में हरक सिंह रावत के गुस्से के चलते एक तूफान आ गया. इस्तीफा देने की बात कहकर कैबिनेट बैठक से निकल गए हरक सिंह रावत की लोकेशन शनिवार सुबह तक ट्रैस नहीं हो सकी, तो उत्तराखंड सरकार और भाजपा मिलकर रावत को मनाने में जुटी रही. इस मान मनौव्वल की पूरी कसरत में केंद्रीय मंत्री अमित शाह से लेकर उत्तराखंड के नेताओं तक ने भूमिका निभाई.

हरक सिंह रावत को मनाने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से लेकर अमित शाह तक और मामले से जुड़े तमाम नेताओं ने हरक सिंह से बातचीत की. इसके बाद शनिवार सुबह पार्टी ने साफ तौर पर कह दिया कि हरक सिंह नाराज़ नहीं हैं और न ही किसी नेता के बीजेपी छोड़कर जाने की कोई संभावना है. हरक सिं​ह के विधानसभा क्षेत्र कोटद्वार में मेडिकल कॉलेज के लिए भी सरकार मान गई है, लेकिन इस पूरी बातचीत में एमएलए उमेश शर्मा से लेकर बीजेपी के प्रदेश संगठन और केंद्रीय मंत्री तक की भूमिका रही.

बताया जा रहा है कि भाजपा ने विधायक उमेश शर्मा काऊ को रूठे हुए हरक सिंह से बातचीत करने के लिए कहा था क्योंकि काऊ को हरक सिंह का करीबी माना जाता है. सूत्रों के मुताबिक काऊ की बातचीत के बाद ही हरक सिंह से मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने बातचीत की और उनकी बात मानी. कहा जा रहा है कि हरक सिंह की बातचीत केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से करवाने में भी प्रदेश संगठन के नेताओं की भूमिका रही. शनिवार सुबह भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मदन कौशिक ने भी हरक सिंह से बातचीत की.

हरक सिंह की लोकेशन नहीं मिल सकी
शुक्रवार को कैबिनेट की बैठक से निकल गए हरक सिंह की तलाश शनिवार सुबह तक चलती रही. न तो वह अपने सरकारी आवास में पहुंचे थे और न ही रात तक डिफेंस कॉलोनी स्थित अपने आवास पर पहुंचे थे. शनिवार सुबह भी हरक सिंह के सरकारी और निजी मोबाइल फोन नंबर स्विच ऑफ ही रहे. जब तक पार्टी की तरफ से उन्हें मना लिये जाने संबंधी काऊ का बयान नहीं आया, हरक सिंह की लोकेशन को लेकर भी सरगर्मियां बनी रहीं.

आपके शहर से (देहरादून)

उत्तराखंड

उत्तराखंड

टैग: Anil Baluni, विधानसभा चुनाव, Harak singh rawat, उत्तराखंड समाचार, उत्तराखंड की राजनीति

.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.