पोता पोती का सुख न देने पर वृद्ध माता-पिता ने अपने बेटे और बहू पर कोर्ट में दर्ज किया केस।

समाज में खून के रिश्तो के बीच प्रॉपर्टी को लेकर अक्सर वाद विवाद की खबरें सामने आती रहती हैं। लेकिन हरिद्वार में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जिसमें पोता पोती का सुख ना देने पर वृद्ध माता-पिता ने अपने बेटे और बहू पर कोर्ट में केस कर दिया है। कोर्ट में केस करने वाले माता पिता ने अपने बहू और बेटे से बेटे की परवरिश और शिक्षा में खर्च हुए 5 करोड़ रुपए की मांग की है। अपनी तरह के इस अनोखे मामले के सामने आने से समाज के एक सियाह सच्चाई को उजागर किया है। हरिद्वार की एक हाउसिंग सोसायटी में रहने वाले बीएचईएल से रिटायर्ड इंजीनियर संजीव रंजन प्रसाद ने अपने इकलौते बेटे श्रेय सागर का बड़े प्यार से जतन किया था। उसे पढ़ा लिखा कर पायलट भी बनाया और अपने जीवन की सारी जमा पूंजी उसके सपनों को पूरा करने में लगा दी। सभी परिवारों की तरह उनका वंश भी आगे बढ़ सके इसलिए उन्होंने साल 2016 में अपने बेटे श्रेय की शादी नोएडा की रहने वाली शुभांगी के साथ कर दी। बेटे की शादी करने के बाद बूढ़े मां बाप की आंखें घर में किलकारी गूंजने का इंतजार करती रही। लेकिन बहू और बेटे ने उन्हें ये सुख देना जरूरी नहीं समझा। लिहाजा मजबूरन बूढ़े मां बाप को ये अजीबोगरीब कदम उठाना पड़ा। अब वृद्ध दंपत्ति को कोर्ट से आस है। दोनों पति पत्नी अपना दुख सुनाते हुए फफक पड़ते हैं। कोर्ट में वाद दायर करने वाले बुजुर्ग दंपति के वकील अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि इस तरह का मामला उनके सामने भी पहली बार आया है. घर परिवारों में अक्सर प्रॉपर्टी और जायदाद को लेकर वाद विवाद सामने आते हैं. लेकिन ये अपनी तरह का पहला मामला है. हरिद्वार की तृतीय एसीजे एसडी कोर्ट में केस दाखिल किया गया है. उन्हें उम्मीद है कि न्यायालय बुजुर्ग दंपति के साथ न्याय करेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.