Harish Rawat Controversy : कांग्रेस के घमासान पर विपक्ष की दुकान! आखिर किसने लगवाए ये पोस्टर?

[ad_1]

देहरादून. हरीश रावत की नाराज़गी पर कांग्रेस में तो बवाल मचा ही हुआ है, लेकिन इसका फायदा उठाने से विपक्षी दल चूक नहीं रहे हैं. उत्तराखंड में चुनाव के माहौल में कांग्रेस के भीतर अंतर्कलह से उठे इस तूफान के बाद देहरादून में एक पोस्टर सड़कों पर लगाया गया है, जो सभी का ध्यान खींच रहा है. इस पोस्टर में हरीश रावत को ​हटाकर युवा नेतृत्व को लाए जाने की मांग कांग्रेस हाईकमान यानी राहुल गांधी से की गई है. बताया जा रहा है कि बीजेपी इस पोस्टर से जुड़ा कंटेंट वायरल कर रही है तो कांग्रेस नेता प्रीतम सिंह इस पूरे मामले में कुछ कहने से परहेज़ कर रहे हैं.

सोशल मीडिया में ट्रोल होने के बाद अब देहरादून में इस तरह के पोस्टर चस्पा कर दिए गए हैं, जिनमें लिखा है : ‘हरीश रावत का डोल चुका है ईमान, राहुल जी युवाओं के हाथ दीजिए उत्तराखंड की कमान.’ इस पोस्टर के नीचे जारी करने वाले का नाम ‘उत्तराखंड कांग्रेस युवा मंच’ लिखा हुआ है. बीजेपी इसे वायरल कर रही है और कांग्रेस इसे कुत्सित मानसिकता बताकर नाम लिS बगैर बीजेपी पर यह इल्ज़ाम लगा रही है कि उसने ही इस तरह के पोस्टर लगवाकर कांग्रेस के खिलाफ भ्रामक प्रचार शुरू कर दिया है.

कांग्रेस ने कैसे किया बचाव?
पोस्टर से खड़े हुए विवाद पर नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने इस बारे में कोई जानकारी होने से इनकार किया. उन्होंने कहा, ‘प्रीतम सिंह का कोई खेमा नहीं है, मैं कांग्रेस का छोटा सा कार्यकर्ता हूं. हरीश रावत जी क्यों नाराज़ हैं, वो खुद बताएंगे. उत्तराखंड में सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में फैसले लिए जाएंगे.’ वहीं, कांग्रेस की फायरब्रांड प्रवक्ता गरिमा दसौनी ने कहा, ‘ये पोस्टर वही पार्टी लगवा सकती है, जिसने चुनाव में युवा नेतृत्व का नारा दिया है. जिसने ये पोस्टर लगवाए हैं, उसमें दम है तो खुलकर सामने आना चाहिए.’

‘रावत अलग पार्टी बनाएंगे तो हम स्वागत करेंगे’
हरीश रावत के ट्वीट्स के बाद उपजे विवाद पर उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री धनसिंह रावत ने श्रीनगर गढ़वाल में कहा, ‘हरीश रावत अगर नई पार्टी बनाते हैं, तो हम उनका स्वागत करेंगे लेकिन इसके लिए हिम्मत होनी चाहिए.’ धनसिंह ने हरीश रावत के अक्सर पावर पॉलिटिक्स करने और दबाव की राजनीति में कई बार सफल होने की बात भी कही. वहीं, अन्य भाजपा नेताओं ने इसे हरीश रावत की नौटंकी करार दिया.

‘मैं टिकट के लिए लाइन में नहीं लगूंगा’
कांग्रेस के भीतर ‘प्रेशर पॉलिटिक्स’ और वर्चस्व की लड़ाई चहुंओर​ छिड़ी है. टिहरी की चार विधानसभा सीटों के लिए 17 कांग्रेसियों ने टिकट की दावेदारी पेश की है. पूर्व पीसीसी चीफ किशोर उपाध्याय ने आवेदन नहीं किया, जबकि उपाध्याय यहां से कांग्रेस के दावेदार माने जा रहे हैं. उपाध्याय का कहना है, ‘पार्टी को तय करना चाहिए कि सीनियर लोगों को चुनाव लड़ाना है या नहीं. अब वो समय नहीं है कि मैं टिकट के लिए लाइन में लगकर आवेदन करूं.’

आपके शहर से (देहरादून)

उत्तराखंड

उत्तराखंड

टैग: विधानसभा चुनाव, Harish rawat, उत्तराखंड विधानसभा चुनाव, उत्तराखंड समाचार

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.