उत्‍तराखंड में PM मोदी के निशाने पर रही पूर्ववर्ती सरकार, पूछा – गुनाह और पाप करने वालों को भूल जाओगे क्या?

[ad_1]

कुमाऊं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उत्तराखंड में 17,500 करोड़ रुपये से अधिक की लागत वाली 6 परियोजनाओं का उद्घाटन और लखवाड़ बहुउद्देश्यीय परियोजना सहित 17 परियोजनाओं का शिलान्यास किया. इस मौके पर उन्होंने उपस्थित जनसभा को संबोधित भी किया. उन्होंने कहा कि आज कुमाऊं आने का सौभाग्य मिला तो कई पुरानी यादें ताजा हो गई हैं. और ये इतनी आत्मीयता से आपने जो उत्तराखंडी टोपी मुझे पहनाई है, वो उसे पहनकर मुझे गर्व का अनुभव हो रहा है. अपने संबोधन के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने पूर्ववर्ती सरकार और उसकी नीतियों पर जबर्दस्त हमला किया. उन्होंने कहा कि ऐसा गुनाह और पाप करने वालों को भूल जाओगे क्या? कोई देश सोच नहीं सकता है कि 5 दशक तक एक योजना फाइलों में इधर-उधर लटकती रहे. मेरा 7 साल का अनुभव है कि ऐसी फाइलों को ढूंढ़ कर काम किया जाना चाहिए. मैं इसको ठीक करूंगा और आप उनको ठीक करिये – ठीक है?

पीएम ने कहा कि उत्तराखंड में टूरिज्म का विकास हो रहा है. पूरी दुनिया में योग की तरफ बढ़ रहा आकर्षण उत्तराखंड की तरफ ही खींच कर लाने वाला है. ये दशक उत्तराखंड का दशक बनाएंगे. ये दशक उत्तारखंड का गौरवपूर्व दशक होने वाला है. उत्तराखंड से कितनी ही नदियां निकलती हैं. पीएम ने तंज करते हुए कहा कि यहां के लोगो ने दो धाराएं और देखी हैं. एक धारा है पहाड़ को विकास से वंचित रखो और दूसरी है पहाड़ के विकास के लिए दिन–रात एक कर दो. पहली धारा वाले आपलोगों को विकास से वंचित रखने वाले हैं. हमेशा मेहनात से भागते रहे. सैकड़ों गांवों की कितनी पीढ़ियां अच्छी सुविधा के अभाव में प्यारा उत्तराखंड छोड़कर कहीं और जाकर बसीं. आज उत्तराखंड में विकास कार्यों के ये शिलान्यास महज शिला पत्थर नहीं है, ये वे संकल्प शिलाएं हैं, जो डबल इंजन की सरकार सिद्ध करके दिखाएगी.

उत्तराखंड में प्रधानमंत्री का दिया भाषण सुनें

नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को निशाने पर रखते हुए कहा कि पहले जो सरकार में रहे हैं, ये उनका परमानेंट ट्रेडमार्क रहा है. आज यहां उत्तराखंड में जिस लखवाड़ प्रोजेक्ट का काम शुरू हुआ है, उसका भी यही इतिहास है. इस परियोजना के बारे में पहली बार 1976 में सोचा गया था. आज 46 साल बाद, हमारी सरकार ने इसके काम का शिलान्यास किया है. जब हम किसी ऐतिहासिक स्थल पर जाते हैं तो वहां हमें ये बताया जाता है कि इस स्थान को इतने साल पहले बनाया गया था, ये इमारत इतनी पुरानी है. दशकों तक देश का ये हाल रहा है कि बड़ी योजनाओं की बात आते ही कहा जाता था- ये योजना इतने साल से अटकी हैं, ये प्रोजेक्ट इतने दशक से अधूरा है. ऐसा गुनाह और पाप करने वालों को भूल जाओगे क्या? पहले की असुविधा और अभाव को अब सुविधा और सद्भाव में बदला जा रहा है. उन्होंने आपको मूल सुविधाओं का अभाव दिया, हम हर वर्ग, हर क्षेत्र तक शत प्रतिशत बुनियादी सुविधाओं को पहुंचाने के लिए दिनरात एक कर रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सबसे ज्यादा नुकसान किसी को भुगतना पड़ा है, तो वह हमारी बेटी-माता को भुगतना पड़ा है. शौचालय नहीं होने की सबसे ज्यादा दिक्कत बहन–बेटियों को उठानी पड़ी है. छत टपकती है तो बहनों को तकलीफ, स्वास्थ्य सुविधा नहीं तो सबसे ज्यादा दुख मां को. उत्तराखंड अपनी स्थापना के 20 साल पूरे कर चुका है. इन वर्षों में आपने ऐसे भी सरकार चलाने वाले देखे हैं जो कहते थे- चाहे उत्तराखंड को लूट लो, मेरी सरकार बचा लो. इन लोगों ने दोनों हाथों से उत्तराखंड को लूटा. जिन्हें उत्तराखंड से प्यार हो, वो ऐसा सोच भी नहीं सकते. वैसे आज जब जनता जनार्दन इन लोगों की सच्चाई जान चुकी है, तो इन लोगों ने एक नई दुकान खोल रखी है. वो दुकान है- अफवाह फैलाने की.
अफवाह बनाओ, फिर उसे प्रचारित करो और उसी अफवाह को सच मानकर दिनरात चिल्लाते रहो.

पीएम मोदी ने कहा, ‘सच्चाई यही है कि जो पहले सरकार में थे, उन्होंने उत्तराखंड के सामर्थ्य की परवाह नहीं की. राज्य की अधिकतर आबादी को पानी की किल्लत के साथ जिंदगी गुजारनी पड़ रही है. नैनीताल झील की सुध नहीं ली, उसके सौंदर्यीकरण के लिए काम किया जाएगा. आज यहां 17,000 करोड़ रुपये से भी अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है. ये सभी प्रोजेक्ट्स कुमाऊं के सभी साथियों को बेहतर कनेक्टिविटी और बेहतर सुविधाएं देने वाले हैं. हल्द्वानी वाले के लिए नए साल की एक और सौगात लेकर आया हूं. हल्द्वानी के विकास के लिए लगभग 2 हजार करोड़ रुपये की योजना लेकर आ रहा हूं. हल्द्वानी में पानी, सिवरेज, पार्किंग, स्ट्रीट लाइट सभी जगह अभूतपूर्व सुधार होगा. इस दशक को उत्तराखंड का दशक बनाने के लिए ऐसे ही विकास कार्यों पर जोर दिया जाएगा.

आपके शहर से (हल्द्वानी)

उत्तराखंड

हल्द्वानी

उत्तराखंड

हल्द्वानी

टैग: हल्द्वानी खबर, पीएम नरेंद्र मोदी, उत्तराखंड समाचार

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.