आग से 60 बीघा गेहूं की फसल राख

बागपत जनपद के खेकड़ा कस्बे में एक किसान की बिजली तारों की चिंगारी से करीब 60 बीघा गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। किसानों और मजदूरों ने आग बुझाने की कोशिश भी की लेकिन तेज हवा व प्रचंड गर्मी के चलते गेहूं की फसल चंद घंटों में जलती चली गई। इससे करीब 10 लाख रुपये का नुकसान होना बताया जा रहा है। पीड़ित किसान ने एसडीएम को शिकायती पत्र देकर विद्युत विभाग से आर्थिक मुआवजा दिलाने की मांग की है। किसान मनीष खेकड़ा कस्बे के मोहल्ला चक्रसेनपुर का रहने वाला है। उसने अपनी 60 बीघा कृषि भूमि में गेहूं फसल बो रखी थी। कृषि भूमि के ऊपर से उच्च क्षमता के बिजली लाइन गुजरी हुई है। दोपहर में तेज हवा के चलते बिजली लाइन के तार आपस में टकरा गए, उनसे निकली चिंगारी से गेहूं फसल में आग लग गई। आसपास खेतों पर काम कर रहे किसानों और मजदूरों ने आग पर काबू पाने का भी प्रयास किया लेकिन सफलता नहीं मिली है। आग लगने से करीब 60 बीघा गेहूं फसल जलकर राख हो गई। मनीष के मुताबिक गेहूं की फसल में आग लगने से 10 लाख से अधिक का आर्थिक नुकसान हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.