Kapurthala Lynching: CM चन्‍नी का दावा- कपूरथला लिंचिंग केस में बेअदबी के कोई सबूत नहीं

[ad_1]

चंडीगढ़. पंजाब (Punjab) के कपूरथला (Kapurthala Lynching Case) में कथित तौर पर बेअदबी (Sacrilege) का प्रयास करने पर पिछले दिनों एक व्‍यक्ति की भीड़ ने पी‍ट-पीटकर हत्‍या कर दी थी. पुलिस ने हत्‍या का मामला अब तक दर्ज नहीं किया है. वहीं शुक्रवार को मुख्‍यमंत्री चरणजीत सिंह चन्‍नी (Charanjit Singh Channi) ने इस मामले में दावा किया है कि कपूरथला केस में बेअदबी का कोई सबूत सामने नहीं आया है. यह हत्‍या थी. इस मामले की जांच जारी है और एफआईआर में संशोधन किया जाएगा.

रविवार को एक व्‍यक्ति पर आरोप लगाया गया था कि उसने कपूरथला के एक गुरुद्वारे में निशान साहिब को हटाने का प्रयास किया था. इसके बाद उसे भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला था. ऐसा ही एक मामला अमृतसर स्थित गोल्‍डन टेंपल में भी हुआ था. पुलिस ने भी कपूरथला के मामले में कहा था कि यह केस चोरी का लग रहा है. इसमें बेअदबी का प्रयास किए जाने के कोई संकेत नहीं हैं.

वहीं बेअदबी का प्रयास करने के मामले में जिस व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी, उसके शव पर घाव के करीब 30 निशान हैं, जो संभवत: तलवार से हमले के कारण हुए थे. यह खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ है. इसकी पुष्टि वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी नरिंदर सिंह ने की है. उन्होंने कहा कि स्थानीय सिविल अस्पताल के पांच सदस्यीय डॉक्‍टरों के बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया.

इस बीच व्यक्ति का अंतिम संस्कार कर दिया गया क्योंकि कोई भी उसका शव लेने नहीं आया. पुलिस ने अभी तक हत्या का मामला दर्ज नहीं किया है. इससे पहले पुलिस ने कहा था कि कपूरथला-सुभानपुर मार्ग पर स्थित निजामपुर गांव के गुरुद्वारा में उन्हें किसी तरह की बेअदबी के साक्ष्य नहीं दिखे. यह हत्या रविवार को हुई और इससे एक दिन पहले अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में भी इसी तरह की घटना हुई, जहां बेअदबी के कथित प्रयास में एक अन्य व्यक्ति की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

टैग: Charanjit Singh Channi, पंजाब

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.