500 से ज्यादा ओमिक्रॉन संक्रमितों की पुष्टि, गृह मंत्रालय ने दिए राज्यों को निर्देश, बच्चों का होगा वैक्सीनेशन

[ad_1]

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। ओमिक्रॉन का कहर बढ़ता जा रहा है। इसे देखते हुए केंद्र की तरफ से रविवार को बूस्टर डोज देने की घोषणा कर दी गई। हालांकि अभी वैक्सीन की तीसरी खुराक फ्रंटलाइन वर्कर्स, हेल्थकेयर वर्कर्स और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 60 साल से ऊपर के बुजुर्गों को लगेगी।

लेकिन, इन सब के बीच 19 राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों से लगभग 598 ओमिक्रॉन संक्रमितों की पुष्टि की गई है। दिल्ली में सबसे ज्यादा 142 ओमिक्रॉन संक्रमित मरीज पाए गए है। इस बढ़ते खतरे को देखते हुए दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज रात से नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान कर दिया है।

बच्चों का वैक्सीनेशन
एक्सपर्ट्स ने संभावना जताई है कि, तीसरी लहर बच्चों को अपने चपेट में ले सकती है। इसलिए अब 15 साल से 18 साल तक के बच्चों का भी वैक्सीनेशन 3 जनवरी से किया जाएगा। इसके लिए कोविन प्लेटफॉर्म पर आप बच्चों का रजिस्ट्रेशन करवा सकते है। बता दें कि, बच्चों के वैक्सीनेशन का रजिस्ट्रेशन 1 जनवरी से शुरू होगा।

रजिस्ट्रेशन के लिए बच्चों की 10वीं कक्षा की मार्कशीट भी लगाई जा सकती है। माना जा रहा है कि, कई बच्चों के पास आधार या दूसरा आईडी कार्ड नहीं होतीहै, इसलिए 10वीं की मार्कशीट का ऑप्शन भी माता-पिता के सामने रखा गया है।

गृह मंत्रालय का निर्देश
ओमिक्रॉन के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को एक चिट्ठी लिखी और कहा कि, सभी प्रदेश 31 जनवरी तक केंद्र सरकार के दिए दिशा-निर्देशों का पूरी ईमानदारी के साथ पालन करें। साथ ही आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत राज्यों से कहा कि, वो कोरोना और ओमिक्रॉन से निपटने के लिए अच्छे तरीके से व्यवस्था कर लें।

.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.