कहीं बर्फ तो कहीं बारिश, सर्द हवाओं की चपेट में उत्तर भारत, बर्फबारी ने बढ़ाई ठिठुरन

[ad_1]

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में मौसम ने अचानक करवट ले ली, जिससे आम जन-जीवन प्रभावित हो गया। एक तरफ पहाड़ो पर जमकर बर्फबारी हुई तो, कई राज्यों में बारिश। उत्तराखंड में बर्फबारी के बाद राज्य के पर्यटन स्थलों पर औली , चोपता – दुगलबिट्टा, , मुनस्यारी – बद्रीनाथ  समेत ऊंचाई वाले स्थानों पर तापमान में गिरावट देखी गई।

वहीं दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़  और मध्य प्रदेश समेत 9 राज्यों  में बारिश के बाद ठिठुरन वाली ठंड ने दस्तक दे दी है। पहाड़ों पर बर्फबारी का असर पूरे देश पर पड़ा है। विदर्भ ऐसा इलाका है, जहां सालभर सूखा रहता है। यहां भी यवतमाल में ओले गिरे हैं।

क्या कहता है मौसम विभाग?
मौसम विभाग के अनुसार 29 दिसंबर से 2 जनवरी तक शीतलहर चलेगी। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान, पश्चिमी उत्तर प्रदेश व उत्तरी मध्य प्रदेश में 1 जनवरी को पारा सिंगल डिजिट में रह सकता है। दिल्ली में तो यह 5 डिग्री के नीचे जा सकता है। गुरुवार तक बिहार, झारखंड में बारिश के आसार हैं।

पहाड़ों पर बर्फबारी
उत्तराखंड के औली, उत्तरकाशी, धनोल्टी और पिथौरागढ़, बद्रीनाथ धाम और चमोली में जमकर बर्फबारी हुई, जिससे बद्रीनाथ मंदिर और आसपास का इलाका बर्फ की चादर से ढक गया। तापमान इतना ज्यादा नीचे गिर गया है कि झरने तक जम गए हैं। इतनी कड़कड़ाती ठंड के बावजूद लोग बर्फबारी का लुत्फ उठाने के लिए पहाड़ी इलाकों का रुख कर रहे हैं। साथ ही लोगों को यातायात में परेशानियां को सामना भी करना पड़ रहा है।

कश्मीर में तापमान हिमांक बिंदु से ऊपर, पहलगाम घाटी में सबसे ठंडा स्थान - The New Indian Express

कश्मीर घाटी की बात करें तो, गुलमर्ग -9.4 डिग्री तापमान के साथ सबसे ठंडा रहा। वहीं पहलगाम का पारा शून्य से 7.9 डिग्री के नीचे चला गया। इसके अलावा हिमाचल प्रदेश में अटल टनल रोहतांग और जलोड़ी दर्रा भी बर्फ की चादर में सिमटे रहे। बर्फबारी की वजह से जहां आम जन-जीवन अस्त-व्यस्त रहा। वहीं यातायात में भारी दिक्कतें देखी गई। कश्मीर के कई जिलों में पारा शून्य से नीचे जा चुका है। वहीं दिल्ली, राजस्थान, और हरियाणा में जमकर बारिश हुई पारा गिर चुका है और कड़ाके की ठंड से लोग परेशान हो रहे है।

कश्मीर में कड़ाके की ठंड, क्रिसमस के दिन तक रहेगा शुष्क मौसम

यूपी-बिहार का हाल
यूपी-बिहार में भी मौसम का मिजाज बदल चुका है। उत्तर प्रदेश के कई जिलों में मंगलवार को दोपहर के बाद अचानक बारिश शुरु हो गई और चंदौली, जौनपुर, मऊ, आजमगढ़, बलिया,  सोनभद्र, भदोही और मिर्जापुर जैसे जिलों में बूंदा-बांदी के साथ बारिश भी हुई।

मौसम अपडेट: आईएमडी ने अगले 4 दिनों के लिए दिल्ली, यूपी, बिहार और केरल में भारी बारिश की चेतावनी जारी की

वहीं बिहार पटना जिला समेत बक्सर, भोजपुर, कैमूर, भागलपुर, औरंगाबाद, गया, नालंदा, नवादा, जहानाबाद और अरवल समेत राज्य के कुछ और जिलों में बारिश हुई और सर्दी बढ़ गई। मौसम विभाग की मानें तो, प्रदेश में 31 दिसंबर के बाद न्यूनतम तापमान 2 से 4 डिग्री तक गिरने की संभावना है।

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़
बीते 24 घंटे में मध्यप्रदेश के 22 से ज्यादा जिलों में तेज और रिमझिम बारिश के साथ ओले गिरे है। बारिश के बाद आई शीतलहर ने लोगों को कंपकंपा दिया है।। प्रदेश के कई जिलों में रात का पारा 10 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। मंगलवार की रात धार और पचमढ़ी सबसे ठंडे रहे। यहां तापमान 9 डिग्री दर्ज किया गया है। वहीं छत्तीसगढ़ के उत्तरी इलाके में मंगलवार को आंधी के साथ बारिश और ओले गिरे। अंबिकापुर की सड़क पर तो ओलों की चादर बिछी रही।

मौसम पूर्वानुमान लाइव: दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में भारी बारिश;  अगले तीन दिनों तक जारी रहेगी बारिश - India News

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.