MP में निगम मंडलों की नियुक्तियां, इमरती देवी को मिला कैबिनेट मंत्री का दर्जा, देखें पूरी लिस्ट

[ad_1]

भोपाल. लंबे इंतजार के बाद मध्य प्रदेश के निगम मंडलों में नयी नियुक्तियां हो गयी हैं. इसमें सबसे प्रमुख नाम सिंधिया की खास समर्थक इमरती देवी (Imarti Devi) का है. उन्हें लघु उद्योग निगम का अध्यक्ष बनाया गया है. इनके अलावा विनोद गोटिया अब मध्य प्रदेश पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष होंगे. इमरती देवी, गिर्राज दंडोतिया, मुन्नालाल गोयल सिंधिया और एंदल सिंह कंसाना सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़ बीजेपी में चले गए थे. विधानसभा उपचुनाव हार गए थे और तब से कोई नई जिम्मेदारी मिलने के इंतजार में थे.

मध्य प्रदेश निगम मंडल में नियुक्तियां
-विनोद गोटिया – अध्यक्ष, मध्य प्रदेश पर्यटन विकास निगम

-एंदल सिंह कंसाना – अध्यक्ष, एमपी एग्रो

-इमरती देवी – अध्यक्ष, लघु उद्योग विकास निगम

-रघुराज कंसाना – अध्यक्ष, पिछड़ा वर्ग आयोग वित्त निगम

-गिर्राज दंडोतिया – अध्यक्ष, ऊर्जा विकास निगम

– मुन्नालाल गोयल – अध्यक्ष, खाद बीज निगम

खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष जितेंद्र लटोरिया

राजकुमार कुशवाह, उपाध्यक्ष, खाद बीज निगम

जसवंत जाटव – राज्य पशुधन कुक्कुट विकास निगम

रणवीर जाटव – अध्यक्ष, हस्त शिल्प हथकरघा विकास निगम

शैलेन्द्र बरुआ – अध्यक्ष, मध्यप्रदेश पाठ्य पुस्तक निगम

निर्मला बारेला, अध्यक्ष, मध्य प्रदेश अनुसूचित जनजाति वित्त विकास निगम

अमिता चपरा, अध्यक्ष, मेला वित्त एवं विकास निगम

जयपाल चावड़ा – अध्यक्ष, इंदौर विकास प्राधिकरण

आशुतोष तिवारी – अध्यक्ष, मध्य प्रदेश गृह निर्माण एवं अधोसंरचना निर्माण मंडल

राजेंद्र सिंह मोकलपुर – उपाध्यक्ष, मध्यप्रदेश खनिज विकास निगम

अजय यादव – उपाध्यक्ष, मध्य प्रदेश पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम

नरेंद्र बिरथरे – उपाध्यक्ष, मध्य प्रदेश कौशल विकास एवं रोजगार निर्माण बोर्ड

शैलेंद्र शर्मा – मध्य प्रदेश कौशल विकास और रोजगार निर्माण बोर्ड

प्रहलाद भारती – उपाध्यक्ष, पाठ्य पुस्तक निगम

मंजू दादू – उपाध्यक्ष – एमपी राज्य कृषि विपणन बोर्ड

सावन सोनकर – अध्यक्ष, म.प्र. राज्य सहकारी अनुसूचित जाति एवं वित्त विकास निगम

रमेश खटीक – उपाध्यक्ष, म.प्र. राज्य सहकारी अनुसूचित जाति एवं वित्त विकास निगम

राजेश अग्रवाल – अध्यक्ष, म.प्र. स्टेट सप्लाइज कॉर्पोरेशन

ये भी पढ़ें- अनुपूरक बजट में आदिवासियों के लिए सिर्फ 400 रुपये, हंगामे के बीच विधानसभा की कार्यवाही अनिश्चितकालीन तक स्थगित…

सिंधिया समर्थकों को तरजीह
सिंधिया समर्थकों के कांग्रेस छोड़ बीजेपी में जाने के बाद इन लोगों को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दिये जाने की अटकलें थीं. इमरती देवी, गिर्राज दंडोतिया, मुन्नालाल गोयल सिंधिया और ऐंदल सिंह कंसाना सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़ बीजेपी में चले गए थे. विधानसभा उप चुनाव हार गए थे और तब से कोई नयी जिम्मेदारी मिलने के इंतजार में थे. ऐंदल सिंह दिग्विजय सिंह समर्थक थे लेकिन सिंधिया के साथ वो भी कांग्रेस छोड़ बीजेपी में चले गए थे.

आपके शहर से (भोपाल)

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

टैग: Jyotiraditya Scindia, मध्य प्रदेश ताजा खबर

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.