मंझावली पुलः 6 डेडलाइन पार, मगर 7 साल में भी नहीं जुड़ सका ग्रेटर नोएडा से ग्रेटर फरीदाबाद

[ad_1]

ग्रेटर नोएडा. साल 2014 से पूरा होने की उम्मीद में मंझावली पुल को एक बार फिर नई तारीख मिल गई है. शिलान्यास के बाद से पुल को पूरा करने की तारीख 6 बार बदली जा चुकी हैं. लेकिन 7 साल में भी मंझावली का पुल पूरा नहीं बन पाया है. हर बार हल्ला मचने के बाद नई तारीख मिल जाती है. इस बार भी ऐसा ही हुआ है. दो दिन पहले यह मामला हरियाणा विधानसभा में भी उठा था. इसी के बाद अब मार्च, 2022 में पुल को पूरी तरह से तैयार करने की घोषणा की गई है. गौरतलब रहे इस पुल के बन जाने के बाद ग्रेटर नोएडा से ग्रेटर फरीदाबाद जाने का रास्ता आसान हो जाएगा.

जानकारों की मानें तो अभी तक नोएडा और ग्रेटर नोएडा वालों को ग्रेटर फरीदाबाद जाने के लिए कालिंदी कुंज, दिल्ली के रास्ते जाना होता है. या फिर जेवर से पलवल होते हुए फरीदाबाद जाना पड़ता है. लेकिन यमुना नदी पर बन रहे मंझावली पुल के तैयार हो जाने से यह रास्ता बहुत छोटा हो जाएगा. नदी पर 650 मीटर लम्बा यह पुल बन रहा है. नई डेडलाइन के मुताबिक मार्च 2022 में पुल बनकर तैयार हो जाएगा.

पापड़ बेलने पड़ते हैं ग्रेटर नोएडा-गाजियाबाद आने में

जानकारों की मानें तो फरीदाबाद से नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद आने के लिए दिल्ली के रास्ते कालिंदी कुंज होते हुए एंट्री होती थी. लेकिन केजीपी बन जाने के कुछ दिन बाद बल्लभगढ़-मोहना रोड के पास मौजपुर में केजीपी से जोड़ने के लिए एक कट दे दिया गया.

इस रोड से केजीपी तक पहुंचने के लिए गांव चंदावली, मच्छगर, दयालपुर, अटाली को पार करना होता है. नतीजा यह हुआ कि कट मिलते ही गांवों के रोड पर भी जाम लगने लगा है. गांव वालों को भी परेशानी होने लगी. केजीपी कट तक पहुंचने का रास्ता भी दुश्वार हो गया. दिल्ली होकर आओ तो रास्ता लम्बा और ऊपर से वहां भी जाम के हालात.

Noida में जुड़ेगी मेट्रो की ब्ल्यू और एक्वा लाइन, जानिए क्या बना है प्लान

केजीपी तक आने में अब ऐसे राहत देगी हरियाणा सरकार

मास्टर प्लान 2031 के अनुसार एक रोड बाईपास रोड को केजीपी से जोड़ने का काम करेगी. यह रोड बाईपास रोड पर सेक्टर-65 के पास से बनाई जाएगी. यह रोड साहूपुरा गांव के पास आगरा नहर पर बने पुल से होते हुए सोताई, दयालपुर व अटाली गांव के बाहर से सीधा केजीपी तक जाएगी. यह 4 लेन सड़क होगी. मास्टर प्लान के हिसाब से यह सड़क सेक्टर-114-66, 117ए-67, सेक्टर 118- 116, 119-115, 120-114 और सेक्टर 121-113 की डिवाइडिंग रोड के रूप में बनाई जाएगी.

यहां से सड़क केजीपी से कनेक्ट होगी

इससे आगे यह अटाली गांव के पास से निकलकर मौजपुर गांव के पास केजीपी से कनेक्ट होगी. इस सड़क के बन जाने से बल्लभगढ़-मोहना रोड पर ट्रैफिक का दबाव पूरी तरह से कम हो जाएगा. इसके लिए सरकार ने 57 करोड़ रुपये का बजट जारी कर दिया है.

आपके शहर से (नोएडा)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

टैग: फरीदाबाद समाचार, ग्रेटर नोएडा समाचार, हरियाणा समाचार

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.