दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के कारण दोबारा लग सकती है पाबंदी, मंत्री गोपाल राय ने कह दी ये बड़ी बात

[ad_1]

नई दिल्ली. दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण (Delhi Air Air pollution) पर दिल्ली सरकार में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने कहा 2 दिन में स्थिति ठीक नहीं हुई तो दोबारा पाबंदियां लगाने को लेकर केंद्रीय गुणवत्ता आयोग (CAQM) से बात करेंगे. गोपाल राय ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति जो दीवाली के बाद बनी थी उसमें सुधार देखने को मिला था. पिछले 2 दिनों से प्रदूषण की स्थिति में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है.एक्सपर्ट के संपर्क में हम है उन्होंने बताया कि 2 दिन के अंदर प्रदूषण की स्थिति में सुधार होगा..

पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल अगर प्रदूषण की स्थिति यही रही तो क्या फिर से पाबंदियां लगायी जा सकती हैं, इसके जवाब में दिल्ली के पर्यावरण मंत्री ने कहा कि देखते हैं क्या स्थिति बनती है. 2 दिन बाद. सब पर हमने नज़र बनाई हुई है. अगर नहीं ठीक रहा तो केंद्रीय वायु गुणवत्ता आयोग (CAQM) से बात करेंगे और उसी आधार पर आगे की रणनीति तय करेंगे.

क्रिसमस और न्यू ईयर के जश्न पर

क्रिसमस और नये साल के जश्न के सवाल पर गोपाल राय ने कहा कि सबको अपनी सेहत के बारे में खुद से सोचना चाहिये. हवा ख़राब हुई तो सभी की सेहत पर असर पड़ेगा.

गोपाल राय ने कहा कि बढ़ते कोरोना केस बीच अगर प्रदूषण बढ़ना काफ़ी ख़तरनाक हो जाता है, इसलिये लगातार नज़र बनाये हुये है. देखते हैं आगे क्या हालात बनते हैं.

दिल्‍ली-एनसीआर में लगातार तीसरे दिन ‘गंभीर’ श्रेणी में AQI

दिल्ली-एनसीआर में इस वक्‍त कड़ाके की ठंड पड़ रही है, तो वहीं वायु प्रदूषण ने सांस लेना मुश्किल कर दिया है. आज यानी शुक्रवार को दिल्‍ली के साथ नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और फरीदाबाद के अधिकांश इलाके रेड जोन में हैं. वहीं, इस दौरान दिल्‍ली के जहांगीरपुरी में AQI 605 दर्ज किया गया, जो कि एनसीआर में सबसे अधिक है.

दिल्‍ली-एनसीआर में हवा की गुणवत्ता (Delhi Air High quality) खराब श्रेणी में बनी हुई है. आज यानी शुक्रवार को दिल्‍ली के साथ नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और फरीदाबाद के अधिकांश इलाके रेड जोन में हैं.

दिल्ली के ये इलाके रेड जोन में

दिल्‍ली में आज सिर्फ मंदिर मार्ग, द्वारका, आरके पुरम, आया नगर और नजफगढ़ रेड जोन से बाहर हैं. जबकि गुरुवार को दिल्‍ली के साथ पूरा एनसीआर रेड जोन में था. दिल्‍ली के अलावा आज गाजियाबाद का इंदिरापुरम और वसुंधरा के साथ ग्रेटर नोएडा का नॉलेज पार्क 3 रेड जोन से बाहर है. हालांकि नोएडा और फरीदाबाद में आज प्रदूषण ने बुरा हाल कर रखा है. वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली(SAFAR) के मुताबिक, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक आज 425 है, जो कि गंभीर श्रेणी में है.

फरीदाबाद सबसे ज्यादा प्रदूषित

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, 25 दिसंबर से स्थितियो थोड़ा सुधरना शुरू हो जाएंगी. जबकि 27 दिसंबर तक प्रदूषण खराब से सामान्य स्तर पर पहुंच सकता है. इस वक्‍त फरीदाबाद देश में सबसे प्रदूषित है तो नोएडा दूसरे और दिल्ली तीसरे नंबर पर है.

आपके शहर से (फरीदाबाद)

टैग: वायु प्रदूषण एक्यूआई स्तर, दिल्ली में वायु प्रदूषण, वायु प्रदूषण रेड जोन, दिल्ली वायु प्रदूषण, गोपाल राय

.

[ad_2]

Supply hyperlink

Leave a Reply

Your email address will not be published.