झारखंड के सरकारी स्कूल की पोल खोलता एक नन्हा रिपोर्टर, देखे वीडियो

Jharkhand News: भारत में सरकारी स्कूलों की हालात किसी से छुपी हुई नहीं है। कहीं अध्यापक पढ़ाने नहीं आते हैं तो कहीं छात्र ही पढ़ने नहीं पहुंचते हैं। तमाम स्कूलों के भवन इतनी बुरी हालात में कि पुरातत्व विभाग उसे सहेज सकता है। मिड-दे मील का भी बुरा हाल है। ऐसा ही एक स्कूल है झारखंड के गोड्डा जिले में। और इस स्कूल की पोल खोली वहीं के एक पूर्व छात्र ने।  

गोड्डा जिले में महगामा ब्लॉक है जहां खिमियाचक के एक नन्हे रिपोर्टर ने अपने इलाके के सरकारी स्कूल की पोल खोल कर रख दी है। इसी स्कूल में पढ़ने वाले एक पूर्व छात्र ने ‘रिपोर्टर’ की भूमिका निभाते हुए स्कूल की समस्याओं का वीडियो बनाया। इस नन्हे रिपोर्टर ने माइक की जगह कोल्ड ड्रिंक की एक खाली बोतल का इस्तेमाल किया। जिससे 12 साल के सरफराज ने स्कूल की बदहाली सामने ला दी। जिसका वीडियो सोशल इडिया पर अब खूब वायरल हो रहा है। वीडियो में सरफराज स्कूल में घूम-घूमकर बता रहा है कि स्कूल में न टॉयलेट है, न ही पीने के पानी की व्यवस्था। इतना ही नहीं इस ‘नन्हे रिपोर्टर’ ने शिक्षकों की मनमानी भी बताई। कहा शिक्षक हाजिरी लेकर गायब हो जाते हैं।

वीडियो वायरल होने के बाद छात्र की मां को धमकाया 

वीडियो वायरल होने के बाद स्कूल के शिक्षक मुश्किल में आ गए। जिसके बाद वे छात्र के जाकर परिवार को धमकाने लगे। सरफराज का आरोप है कि इस वीडियो के सामने आने के बाद स्कूल के शिक्षक ने घर पहुंचकर उसकी मां को धमकाया। शिक्षक ने उन्हें कहा कि अपने बेटे को समझा दो, नहीं तो थाने में शिकायत कर देंगे। 

झारखंड के शिक्षा मंत्री से की अपील

वीडियो में सरफराज स्कूल के सभी हिस्सों में जाता है। वो वीडियो बनाते हुए शौचालय की तरफ जाता है। फिर सरकार पर सवाल उठाते हुए कहता है कि ये कैसी व्यवस्था है, स्वच्छ भारत अभियान चल रहा है लेकिन सरकार क्या कर रही है? कैंपस में घनी घास को दिखाते हुए वो कहता है कि देखिए कि स्कूल में जंगल है। वो आगे सरकार से निवेदन करते हुए कहता है, “इस स्कूल की व्यवस्था ठीक करें। स्कूल के लिए पैसे आते हैं लेकिन रिपेयरिंग नहीं करवाई जाती है। अभी पौने एक बज रहा है लेकिन देखिए कि एक भी टीचर नहीं है।”

क्यों बनाया वीडियो 

वीडियो बनाने के पीछे मकसद पूछे जाने पर सरफराज ने कहा कि, ‘जब मैं यहां पढ़ता था, तब भी यही हालात थे, पढ़ाई नहीं होती है। कोई सुविधा नहीं थी। अब मेरे छोटे भाई इसी स्कूल में पढ़ते हैं इसलिए उसने वीडियो बनाकर वायरल किया है ताकि कुछ सुधार हो सके। 

देखें वायरल वीडियो – 

Leave a Reply

Your email address will not be published.