बॉर्डर पर लिए दूल्हा-दुल्हन ने 7 फेरे, जानिए क्या है वजह

1
224

यह मामला उत्तर प्रदेश के धर्मपुर बॉर्डर का है. जहां लॉकडाउन के कारण अफजलगढ़ थाना क्षेत्र के कासमपुर गढ़ी गांव से आई बारात को पुलिस ने बॉर्डर पर ही रोक दिया. और कासमपुर गढ़ी गांव के रोहित शर्मा का जसपुर के गांधी पार्क निवासी शिवानी से रिश्ता हुआ था. शादी की तिथि 27 अप्रैल रखी गई थी. इसी बीच कोरोना के कारण हुए लॉकडाउन में दुल्हन पक्ष ने तो शादी की अनुमति ले ली, लेकिन वर पक्ष बारात लाने की अनुमति नहीं ले पाया.

अनुमति नहीं लेने के बावजूद भी दूल्हा बारात लेकर जसपुर के लिए चल दियी, लेकिन पुलिस ने बारात को धर्मपुर बॉर्डर पर ही रोक दिया. इस दौरान दूल्हा पक्ष ने पुलिस से बारात ले जाने को लेकर कई मिन्नतें कीं, लेकिन वो सफल नहीं हुए . उधर, बारात रुकने की सूचना दुल्हन पक्ष को मिली. जिसके बाद परिजन ही दुल्हन को लेकर बॉर्डर पर पहुंच गए.

फिर दोनों पक्षों में बॉर्डर पर ही शादी करने की सहमति बनी और  पंडित को बुलवा लिया गया. मौसम बिगड़ता देख एसआई जीडी भट्ट ने शादी की रस्मों को पूरा करने के लिए चौकी का खाली कमरा उपलब्ध कराया. इसके बाद दो राज्यों का बॉर्डर शादी का साक्षी बना. फेरों के बाद परिजनों ने दुल्हन को यहीं से विदा किया.

Spread the love

1 COMMENT

LEAVE A REPLY