सीनियर टीम इंडिया ही नहीं, जूनियर्स ने भी विदेश में दिखाया दम

0
1044

टीम इंडिया का अजेय क्रम जारी है. जीत के सिलसिले को न सिर्फ सीनयर टीम इंडिया ने बरकरार रखा, बल्कि जूनियर टीम ने भी अपना दमखम दिखाया है. एक ओर श्रीलंका में विराट ब्रिगेड ने टेस्ट सीरीज में मेजबान टीम को उसकी धरती पर 3-0 से सफाया कर इतिहास रचा, वहीं वनडे सीरीज के पहले मुकाबले में 9 विकेट से बड़ी जीत हासिल की.

राहुल द्रविड़ के इंडिया-ए और अंडर-19 के हेड कोच रहते जूनियर टीमों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है. इंडिया अंडर-19 ने इंग्लैंड दौरे में न सिर्फ दोनों यूथ टेस्ट जीते, बल्कि पांचों वनडे में अंग्रेजों को धूल चटाई. जबकि इंडिया -ए ने भी द. अफ्रीकी दौरे पर शानदार प्रदर्शन किया.

अंडर-19 यूथ टेस्ट विरुद्ध इंग्लैंड-ए

– अंडर-19 टीम ने पहले यूथ टेस्ट में इंग्लैंड अंडर-19 को 334 रनों के विशाल अंतर से हराया. जबकि दूसरे यूथ टेस्ट में भारत की अंडर-19 टीम ने 97 रनों से बाजी मारी.

-इस दौरान मुंबई के 17 साल के पृथ्वी शॉ ने 62.50 की औसत से सर्वाधिक 250 रन बनाए. पृथ्वी नवंबर 2013 में सुर्खियों में तब आए थे, जब उन्होंने हैरिस शील्ड टूर्नामेंट में सेंट फ्रांसिस के खिलाफ रिजवी स्प्रिंगफील्ड की ओर से खेलते हुए 330 गेंदों में 546 रन बना डाले थे. उन्होंने इस पारी में 85 चौके तथा पांच छक्के लगाए थे.

-यूथ टेस्ट में सर्वाधिक विकेट की बात करें, तो बाड़मेर (राजस्थान) के पेसर कमलेश नागरकोटी ने सबसे ज्यादा 14 विकेट निकाले.

अंडर-19 वनडे विरुद्ध इंग्लैंड-ए

जबकि वनडे के पांच मैचों की सीरीज में अंडर-19 टीम ने 5 विकेट, 8 विकेट, 169 रन, एक रन और 1 विकेट से इंग्लैंड अंडर-19 का सफाया किया.वनडे सीरीज के दौरान झारखंड के शुभम गिल ने 92.66 की औसत से सबसे ज्यादा 278 रन बनाए. जबकि झारखंड के ही अंकुर राय ने अपनी फिरकी से 10 विकेट चटकाए.

इंडिया-ए ट्राई सीरीज (द. अफ्रीका)

उधर, दक्षिण अफ्रीका में इंडिया-ए ने ट्राई सीरीज पर कब्जा किया. सीरीज में मेजबान द. अफ्रीका के अलावा अफगानिस्तान की टीम थी. फाइनल में इंडिया-ए ने एक विकेट से रोमांचक जीत हासिल की.ट्राई सीरीज में भारत-ए की ओर से मनीष पांडे ने पांचों मैच में 4 बार नाबाद रहते हुए 307 रन बनाए. जबकि मुंबई के शार्दुल ठाकुर ने 9 विकेट चटकाए.

अनऑफिशियल टेस्ट सीरीज विरुद्ध द. अफ्रीका

इंडिया-ए ने अनऑफिशियल टेस्ट सीरीज का पहला मैच 235 रनों से गंवाया, लेकिन दूसरे टेस्ट में भारत ने वापसी की और द. अफ्रीकी टीम को 6 विकेट से जीतकर सीरीज में 1-1 से बराबर पाई. इस दौरान झारखंड के स्पिनर शाहबाज नदीम का उल्लेखनीय प्रदर्शन रहा उन्होंने 11 विकेट झटके.

Spread the love

LEAVE A REPLY