टैक्सपेयर्स के लिए अच्छी खबर, प्रधानमंत्री लॉन्च करेंगे स्पेशल प्लेटफॉर्म

0
56

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) गुरुवार को देश के ईमानदार टैक्सपेयर्स के सम्मान में एक प्लेटफॉर्म ‘पारदर्शी कराधान-ईमानदार का सम्मान’ लॉन्च करेंगे. 1फरवरी को पेश किए गए बजट 2020-21 में ‘टैक्सपेयर्स चार्टर’ का एलान किया गया था, जिसे वैधानिक दर्जा मिलने की उम्मीद है. साथ ही नागरिकों को आयकर विभाग की ओर से तय समय में सेवाएं सुनिश्चित होंगी. वित्त मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि प्रधानमंत्री ‘पारदर्शी कराधान – ईमानदार का सम्मान’ के लिए जो प्‍लेटफॉर्म लॉन्च करेंगे, वह डायरेक्ट टैक्स रिफॉर्म की यात्रा को और भी आगे ले जाएगा.

मंत्रालय का कहना है कि केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने हाल के वर्षों में डायरेक्ट टैक्स के मोर्चे पर में कई अहम सुधार किए हैं. पिछले साल कॉरपोरेट टैक्स की दर को 30 फीसदी से घटाकर 22 फीसदी कर दिया गया और नई मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स के लिए इस रेट को और भी अधिक घटाकर 15 फीसदी कर दिया गया. ‘डिविडेंट डिस्ट्रिब्यूशन टैक्स’ को भी हटा दिया गया.

 

टैक्स कानून को सरल बनाने पर फोकस

मंत्रालय का कहना है कि टैक्स रिफॉर्म टैक्‍स रेट में कमी करने और डायरेक्ट टैक्स कानूनों के सरलीकरण पर फोकस रहा है. आयकर विभाग के कामकाज में दक्षता और पारदर्शिता लाने के लिए सीबीडीटी की ओर से कई कदम उठाए गए हैं. हाल ही में शुरू की गई ‘दस्तावेज पहचान संख्या (DIN)’ के जरिए आधिकारिक कम्युनिकेशन में अधिक पारदर्शिता लाना भी इन उपायों में शामिल है. जिसके तहत विभाग के हर कम्युनिकेशन या पत्र-व्यवहार पर कंप्यूटर जेनरेटेड एक यूनिक डिन होता है.

इसी तरह, करदाताओं के लिए कम्प्लायंस को ज्‍यादा आसान करने के लिए आयकर विभाग अब ‘पहले से ही भरे हुए आयकर रिटर्न फॉर्म’ उपलब्ध करा रहा है, ताकि पर्सनल टैक्सपेयर्स के लिए कम्प्लायंस को और भी अधिक सुविधाजनक बनाया जा सके. इसी तरह स्टार्टअप्‍स के लिए भी कंप्लायंस मानकों को सरल बना दिया गया है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में कहा था कि सीबीडीटी ‘टैक्सपेयर चार्टर’ लेकर आएगा. जिससे कर प्रशासन और करदाता के बीच भरोसा बढ़ेगा और विभाग की दक्षता बढ़ेगी. सीबीडीटी डायरेक्ट टैक्स के मामले पर निर्णय लेने वाली शीर्ष संस्था है.

मोदी कई मौकों पर ईमानदार टैक्सपेयर्स की तारीफ कर चुके हैं और अब वह ईमानदार टैक्सपेयर्स के लिए एक बड़ा प्रोग्राम शुरू करने वाले हैं। पिछले करीब 3-4 हफ्तों से पीएम मोदी वरिष्ठ टैक्स अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। इन बैठकों से वह इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि देश में एक पारदर्शी टैक्सेशन की जरूरत है। इन बैठकों में आयकर रिटर्न (income tax return) को लेकर काफी चर्चा हुई है। माना जा रहा है कि पीएम मोदी के नए प्रोग्राम का मुख्य फोकस इंडिविजुअल टैक्सपेयर्स (individual taxpayers) पर होगा।

Spread the love

LEAVE A REPLY