रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रुस के दौरे को बताया स्पेशल,एस 400 की सप्लाई पर दिए ये संकेत….

0
103

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को बताया कि भारत व रुस के सम्बन्ध एक विशिष्ट एंव विशेष सामरिक भागीदारी है। और दोनों देशों के बीच मौजूदा सैन्य सम्बंध बरकरार रहेंगे। और साथ ही कई मामलों को लेकर जल्द ही आगे बढ़गे। द्वितीय विश्व युद्ध में जर्मनी पर सोवियत जीत की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर बुधवार को सैन्य परेड में शिरकत करने के लिए तीन दिवसीय दौरे पर मास्को आए हैं।

सिंह का कहना है कि मास्को की यह यात्रा कोविड-19 महामारी के बाद किसी भारतीय अधिकारी प्रतिनिधि मंडल की यह पहली विदेश यात्रा है रक्षामंत्री ने यहां पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि ‘भारत रुस सम्बंध एक विशिष्ट व विशेषाधिकार प्राप्त सामरिक भागीदारी है हमारे रक्षा सम्बंध इसके महत्वूपर्ण स्तम्भों में से एक है।

उन्होने रुस की ओर से भारत को समय-समय पर एस-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली दिए जाने का संकेत देते हुए यह बात कही है कि इस बीच नई दिल्ली में एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को बताया है कि मॉस्को की सैन्य परेड के दौरान रक्षा मंत्री राजनथ सिंह ने उनके चीनी समक्ष वेई फेंग के बीच द्विपक्षीय बैठक नही होगी।

Spread the love

LEAVE A REPLY