भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा के मामले में सुप्रिम कोर्ट ने दिया ये सुझाव…

0
87

केन्द्र सरकार द्वारा आज सोमवार को सुप्रिम कोर्ट में जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली दो बेंच के सामने भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा का मामला रखते हुए कहा है कि बिना भीड़ के धार्मिक रितीयों को पूरा करने की अनुमती दी जानी चाहिए, सुप्रिम कोर्ट का कहना है कि पूरी सावधानी के साथ यह यात्रा पूरी की जाएगी। और साथ ही बता दें कि उड़ीसा सरकार ने भी इसी तर्ज पर यात्रा का समर्थन किया है।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता का कहना है कि सदियों से चली आ रही परम्परा को तोड़ा नही जा सकता। यह करोड़ो लोगों की आस्था की बात है यदि भगवान जगन्नाथ कल 23 जून को नही आएंगे तो वो परम्पराओं के अनुसार 12 वर्षों तक नही आ सकते है। यह सुनिश्चित करने के लिए की महामारी ना फैले इसके लिए सावधानी बरतते हुए राज्य सरकार एक दिन के लिए राज्य सरकार कर्फ्यू लगा सकती है। शंकराचाक्य द्वारा तय किए गए अनुष्ठानों में वे लोग सेवायत भाग ले सकते हैं और जिनका कोरोना टेस्ट नेगेटिव है लोग टीवी पर लाईव देख सकते है और लाइव टेलीकास्ट देख सकते है ।

Spread the love

LEAVE A REPLY