धनतेरस पर क्या खरीदें और क्या नही!

0
349

त्योहारों की तारीख और उनका सही मुहूर्त को लेकर अक्सर असमंजस रहता है, इस बार भी दीपावली और उसके साथ आने वाले त्योहारों को लेकर लोगों के बीच असमंजस रहा। धनतेरस को लेकर भी लोगों में कुछ ऐसा ही माहौल रहा। हिन्दू धर्म के व्रत एवं त्योहार हिन्दी पंचांग की तिथियों के अनुसार ही मनाए जाते है, तो कई बार ऐसा होता है कि त्योहारों की पंचाग तिथियां और अंग्रेजी कैलेंडर की तिथि अलग हो जाती है।

पंचांग के अनुसार आज धनतेरस है, कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को धनतेरस का त्योहार होता है। इस वर्ष कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी तिथि का प्रारंभ आज रात 09 बजकर 30 मिनट से 13 नवंबर दिन शुक्रवार को शाम 05 बजकर 59 मिनट तक है।

धनतेरस का पर्व दीपावली के दो दिन पहले आता है। इस दिन भगवान धनवंतरी, कुबेर की पूजा की जाती है। इसी दिन रात में यम दीप भी जलाया जाता है। मान्यता है कि धनतेरस पर कुछ चीजों को खरीदने पर लाभ मिलता है। धनतेरस के दिन व्यापारी लोग भी अपनी दुकान और व्यापार की जगह में पूजा कर मां लक्ष्मी की अराधना करते है। इस दिन कुछ खास चीजों को घर में खरीदकर लाना बहुत ही शुभ होता है। खासतौर पर इस दिन पीतल या चांदी के बर्तन खरीदना बहुत शुभ माना जाता है।

माना जाता है कि इस दिन खरीदी जाने वाली चीजों से धन समृद्धि में बढ़ौतरी होती है। झाड़ू को मां लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है। इसलिए धनतेरस पर झाड़ू खरीदने का भी महत्व माना जाता है। मान्यता है कि इस दिन नई झाड़ू लाने से मां लक्ष्मी का आगमन होता है और नकारात्मक ऊर्जा बाहर निकल जाती है। इसके अलावा धनतेसर पर हम और भी काफी ऐसी चीजे खरीदतें है लेकिन उन चीजों में कुछ ऐसी चीजें भी शुमार है जो नही खरीदनी चाहिए जैसे की शीशे से बनी चीजें। इनका खरीदना नुकसानदायक माना जाता है।

Spread the love

LEAVE A REPLY