चुपचाप आपके मोबाइल में घुसकर जेब खाली कर रहा है ये वायरस

0
709

न मोबाइल हैंग होगा. न किसी ऐप को चलाने में दिक्कत ही पेश आएगी, लेकिन आपकी जेब खाली हो जाएगी. दरअसल भारत समेत 47 देशों में एक ऐसा वायरस आ गया है, जो आपके मोबाइल में घुसकर आपकी जेब खाली करने में जुटा हुआ है.

साइबर सिक्योरिटी फर्म कास्पर्स्की एक रिपोर्ट जारी की है. इसमें कंपनी ने बताया है कि ‘जैफेकॉपी ट्रोजन’ नाम का मलवेयर भारत में कई मोबाइल में घुस गया है. कंपनी के मुताबिक इस वायरस के 40 फीसदी पीडि़त भारत के ही हैं.

यह वायरस काफी एडवांस है. यह आपको पता चले बिना आपके मोबाइल में घुस जाता है. इसके आने के बाद भी स्मार्टफोन सामान्य तौर पर ही काम करता है. फिर चाहे आपके मोबाइल में हेवी ऐप्स ही क्यों न हों.

यह वायरस वायरलेस एप्ल‍िकेशन प्रोटोकॉल (वैप) बिलिंग प्लैटफॉर्म का यूज करता है. वैप एक मोबाइल पेमेंट सिस्टम है. इससे किया गया खर्च सीधे आपके मोबाइल बिल में जुड़ता है.

यह पीडि़त के मोबाइल में घुसकर सक्रिय हो जाता है और बड़ी आसानी से सभी सिक्योरिटी फीचर को मात देकर अलग-अलग सर्विसेज को सब्सक्राइब कर लेता है और मोबाइल यूजर को पता चले बिना पेमेंट कर देता है

रिपोर्ट के मुताबिक अगर आपने किसी साइट पर अपना डेबिट और क्रेडिट रजिस्टर नहीं भी किया है, तो भी यह बड़ी आसानी से सर्विस सब्सक्राइब करके पैसे उड़ा ले जाता है,यह कैप्चा सिस्टम को भी पार कर लेता है. कैप्चा कुछ शब्दों और अंकों का एक ग्रुप होता है, जो यह तय करता है कि कंप्यूटर पर कोई टास्क एक इंसान की तरफ से ही किया जा रहा है. हालांकि ये वायरस इस सिस्टम को भी आसानी से गच्चा दे देता है.

कास्पर्स्की लैब के एमडी (साउथ एशि‍या) अल्ताफ हाल्दे ने बताया कि किसी भी थर्ड पार्टी के ऐप्स को डाउनलोड न करें. इसके अलावा मोबाइल पर एंटी वायरस और अन्य सिक्योरिटी मेजर्स कर के रखें

Spread the love

LEAVE A REPLY